झारखंड के शातिर ठग की …

कोर्ट में वकीलों ने ठग की जमकर लगाई धुनाई 

ग्वालियर। शहर के एक वकील से ठगी करने वाले झारखंड के शातिर ठग को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। कोर्ट में पेशी के दौरान ठग पर वकीलों ने जमकर लात घूसे बरसाए हैं। पुलिस की टाइट सिक्युरिटी के बाद भी ठग की लोगों ने जमकर धुनाई लगाई है। पुलिस जवानों ने बमुश्किल ठग को वकीलों और कोर्ट में मारपीट कर रहे लोगों से बचाया और सुरक्षित कोर्ट में पेशी कराई है।

यहां बता दें कि शहर के वकील अवधेश भदौरिया के साथ 16 अगस्त को फोन-पे अपडेट करने के दौरान कस्टमर केयर के फेंक नंबर पर कॉल करने पर यह ठगी हुई थी। उनके अकाउंट से 2 लाख रुपए निकल गए थे। जिसके बाद झारखंड के इस ठग को क्राइम ब्रांच ने जयपुर राजस्थान से गिरफ्तार किया था।

शहर के गोला का मंदिर निवासी अधिवक्ता अवधेश सिंह भदौरिया 16 अगस्त को अपना फोन-पे वॉलेट को अपडेट कर रहे थे। उनका खाता यूनियन बैंक हाईकोर्ट ब्रांच में है। उन्होंने पहले बैंक फोन किया तो बैंक से जवाब मिला कि उनकी तरह से सब कुछ ठीक है। एक बार फोन पे के कस्टमर केयर नंबर पर बात कर लेना। अधिवक्ता अवधेश भदौरिया इंटरनेट से कस्टमर केयर का नंबर निकाला और बात की। वहां से एक नंबर से कॉल आया। अपडेट के लिए लिंक भेजी। जिस पर एनीडेस्क एप डाउनलोड करा दिया गया। इसके बाद वकील के खाते से चार बार में लगभग 2 लाख रुपए निकल गए। ठगी का अहसास होते ही उन्होंने तत्काल बैंक से खाता बंद कराया और क्राइम ब्रांच में मामले की शिकायत की। पुलिस ने इस मामले में झारखंड के एक ठग शेरआजम अंसारी निवासी झारखंड को जयपुर राजस्थान से गिरफ्तार किया था। 

आरोपी के खाते में एक लाख रुपए ट्रांसफर हुए थे। जिनमें से 50 हजार रुपए पुलिस ने तत्काल फ्रीज करा दिए हैं। पर मास्टर माइंड अभी तक पुलिस के हाथ नहीं आया है। ठगी जयपुर में बैठकर की गई थी। एक अन्य के खाते में शेष रकम ट्रांसफर की गई थी, लेकिन वह पकड़ में नहीं आया है।जब वकील से ठगी करने वाले शेरआजम अंसारी को पुलिस अभिरक्षा में कोर्ट में पेश किया गया है। पर जैसे ही वह कोर्ट में दाखिल हुए मानों पहले से उसके स्वागत की तैयारी चल रही हो। वकीलों और वहां मौजूद लोगों ने ठग पर लात घूसे बरसा दिए। उसकी जमकर धुनाई लगाई है। पुलिस उसे बचाती रही और लोग पीटते रहे। किसी तरह पुलिस उसे बचाकर कोर्ट में पहुंची और पेश किया। वहां से उसे वापस सुरक्षित निकालकर लाई है।