देश में पहले ही पहुंच चुके हैं काफी हथियार…

स्वतंत्रता दिवस पर आतंकी हमले को लेकर IB का हाई अलर्ट !

नई दिल्ली। एक तरफ देश भर में आजादी की 75वें सालगिरह मनाने की तैयारी हो रही है, तो इसी दिन आतंकी संगठन भी देश का दहलाने का प्लान कर रहे हैं। खास तौर पर राजधानी दिल्ली उनके निशाने पर है। IB ने आतंकियों की गतिविधियों और अपने सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर दिल्ली में हाई अलर्ट जारी किया है। खुफिया एजेंसियों के मुताबिक आतंकियों ने आजादी की प्लैटिनम जुबली सेलिब्रेशन को टारगेट करते हुए कई प्लान बनाये हैं। परेशानी की बात है कि सीमा पर तमाम सावधानी के बावजूद काफी मात्रा में हथियार भारत पहुंच चुके हैं। ऐसे में देश के कई हिस्सों में आतंकी हमलों की आशंका बढ़ गई है। 

आईबी के मुताबिक पाकिस्तान बॉर्डर के रास्ते पंजाब से होते हुए ड्रोन के जरिए कई IED भारत के अलग-अलग शहरों में पहुंच चुके हैं। पिछले दिनों पंजाब और अलग-अलग राज्यों में गिरफ्तार आतंकियों से पूछताछ में पता चला कि आतंकी संगठन ड्रोन के जरिये काफी सारा IED भारत में भेज चुके हैं। पाकिस्तान में मौजूद आतंकी संगठनों ने ड्रोन के जरिए घातक हथियार जिसमें पिस्टल, हेंड ग्रेनेड और AK47 जैसे हथियार भारत में भेजा है। कुछ हथियारों को बीएसएफ ने पकड़ा था, लेकिन बावजूद काफी हथियार भारत के कई शहरों में पहुंच चुके हैं। भारत में कुछ जगहों पर पहुंचा दिया है। वहीं सुरक्षा एजेंसियों को लोन वुल्फ अटैक के इनपुट्स भी मिले हैं। यानी भीड़-भाड़ का फायदा उटाकर कोई अकेला शख्स भी हमले को अंजाम दे सकता है। आईबी ने दिल्ली पुलिस को स्क्रीनिंग और चेकिंग बेहद टाइट रखने को कहा है। 

15 अगस्त के दिन देश मे कई जगह आतंकी लोन वुल्फ अटैक भी कर सकते हैं। इस अटैक के जरिये कोई अकेला शख्स तेज धारदार हथियार और बड़े वाहन के जरिये भीड़ पर हमला कर सकता है। इसके अलावा आतंकी लाल किले पर हमला करने के लिए पतंग नुमा किसी उड़ने वाली चीज़ का इस्तेमाल कर सकते हैं। खुफिया एजेंसी ने पतंगों के जरिए अटैक करने का खास अलर्ट दिया है। इस वजह से लाल किले के आस-पास पतंगों पर पूरी तरह बैन और नजर रखने का निर्देश दिया गया है। वहीं कोई बैसाखी के जरिए भी किसी तरह का अटैक कर सकता है। खुफिया एजेंसी ने कहा है कि बैसाखी की स्क्रीनिंग बहुत स्ट्रॉन्ग होनी चाहिए।