पकड़े गये गिरोह से पुलिस द्वारा 2 लाख रूपये नगद तथा चार मोबाइल जप्त…

हनीट्रैप के मामले में फसाकर कपड़ा व्यापारी से लाखों रूपये ऐंठने वाला गिरोह गिरफ्तार

ग्वालियर। पुलिस अधीक्षक ग्वालियर अमित सांघी को व्हाट्सएप के माध्यम से काॅल कर अष्लील वीडियो बनाकर लोगों को ब्लेकमेल करने संबंधी सूचनाएं लगातार प्राप्त हो रही थी। दिनांक 01.08.2022 को पुलिस अधीक्षक ग्वालियर को सूचना प्राप्त हुई कि फरियादी नरेन्द्र जैन निवासी नरवर जिला षिवपुरी से अष्लील वीडियो बनाकर ब्लेकमेल कर लाखों रूपये ठगने वाले गिरोह के सदस्य थाना कम्पू स्थित गोल्डन ब्लेज होटल के रूम नम्बर 304 में ठहरे हुए हैं। उक्त सूचना पर पुलिस अधीक्षक ग्वालियर द्वारा अति. पुलिस अधीक्षक शहर(दक्षिण) मृगाखी डेका एवं अति. पुलिस अधीक्षक शहर (पूर्व/अपराध) राजेश डण्डोतिया को क्राईम ब्रांच तथा थाना कम्पू पुलिस की संयुक्त टीम बनाकर उक्त हनीट्रैप के मामले में ब्लेकमेल करने वाले गिरोह की तस्दीक कर कार्यवाही करने हेतु निर्देषित किया गया। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देष के परिपालन में डीएसपी अपराध रत्नेश तोमर एवं सीएसपी इन्दरगंज विजय भदौरिया के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी क्राईम ब्रांच निरीक्षक दामोदर गुप्ता तथा थाना प्रभारी कम्पू निरीक्षक रामनरेष यादव के नेतृत्व में पुलिस टीमों को मुखबिर के बताये स्थान थाना कम्पू स्थित गोल्डन ब्लेज होटल पर भेजा गया। 

पुलिस टीम द्वारा गोल्डन ब्लेज होटल के रूम नम्बर 304 का दरबाजा खुलवाने पर रूम के अन्दर तीन पुरूष व एक महिला उपस्थित मिले। पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में उनके द्वारा बताया गया कि नरवर जिला षिवपुरी हाल अहमदाबाद निवासी मास्टर माइण्ड के कहने पर उन लोगों के द्वारा कपड़ा व्यापारी नरेन्द्र जैन निवासी नरवर को हनीटैप में फसाकर झूठा केस कायम करने की धमकी देकर उससे 25 लाख रूपये की मांग की गई थी, जिस पर फरियादी द्वारा गिरोह के सदस्यों नेे 02 लाख रूपये की रकम भी दे दी गई थी। फरियादी से ऐंठी गई रकम गिरोह के सदस्यों ने आपस में बांट ली थी। तलाषी लेने पर पकड़े गये गिरोह के सदस्यों से 01 लाख 80 हजार रूपये नगद तथा तीन मोबाइल व अन्य दस्तावेज जप्त किये गये। पकड़े गये गिरोह के तीन पुरूष व एक महिला सदस्यों ने पूछताछ में बताया कि गिरोह का सरगना नरवर जिला षिवपुरी हाल अहमदाबाद का रहने वाला है तथा उसी के कहने पर हम लोगों द्वारा व्हाट्सएप के माध्यम से अष्लील वीडियों बनाकर ब्लेकमेल करते हैं। पूछताछ में इनके द्वारा कई लोगों को अष्लील वीडियों बनाकर ब्लेकमेल किया गया है जिसके संबंध में विस्तृत पूछताछ की जा रही है। गिरोह की महिला सदस्य को हिरासत में लिया जाकर रात्रि होने की वजह से वनस्टाॅप सेंटर में छोड़ा गया, जिससे आज विस्तृत पूछताछ की जाएगी।

पकड़ी गई महिला से महिला पुलिसकर्मियों द्वारा की गई तलाषी में 20 हजार रूपये नगद व एक हैण्डबेग एवं ओप्पो कंपनी का एक मोबाइल जप्त किया गया है। गिरोह के मास्टर माइण्ड की भी पुलिस द्वारा तलाष की जा रही है। ज्ञात हो कि फरियादी द्वारा दिनांक 01.08.2022 को थाना कम्पू में अवेदन पत्र दिया गया था कि उसको एक महिला द्वारा व्हाट्सएप के जरिए दोस्ती कर अष्लील वीडियो वनाकर ब्लेकमेल किया जा रहा है और मुझसे 25 लाख रूपये की मांग भी की गई है। मेरे द्वारा उक्त महिला को 02 लाख रूपये अभी तक दिये जा चुके हैं तथा और पैसे के लिये मुझे ग्वालियर के एक होटल में बुलाया गया है। जहां मुझे नषीला पदार्थ देकर बेहोष करने के उपरान्त मेरे अष्लील फोटो लेकर मुझे बदनाम करने की नियत से रूपयों की मांग की जा रही है। मेरे मना करने पर मेरे विरूद्व झूठा प्रकरण दायर कराने की धमकी भी दी जा रही है, महिला के इस कृत्य में उसके अन्य साथी भी शामिल हैं। फरियादी की रिपोर्ट पर थाना कम्पू में अप.क्र. 368/22 धारा 388,120,34 भादवि का कायम कर विवेचना में लिया गया।