दिया अपनी विद्वता और कार्यप्रणाली का परिचय…

 केवल 74 दिन के लिये चीफ जस्टिस बने हैं सीजेआई यू यू ललित !

नये सीजेआई यू यू ललित केवल 74 दिन के लिये चीफ जस्टिस बने हैं, उन्हें सीजेआई के रूप में काम करने का बहुत कम अवसर मिलेगा और वे कितना और क्या कमाल कर सकते हैं, उन्हें केवल दो महीने दस दिन में ही करना होगा। हालांकि जस्टिस यू यू ललित ने कुछ कुछ संकेत दिये हैं कि जैसे कोर्ट में लिस्टिंग प्रक्रिया (बेवजह अकारण तारीख बढ़ाने का सिस्टम बंद करने) को पारदर्शी और जन सुलभ करने, एडवोकेटों को शीघ्र सुनवाई का निवेदन प्रक्रिया को ऑनलाइन‌ और सुलभ सटीक तथा पारदर्शी बनाने, हिंदू के बजाय सनातन धर्म का पालन करने जैसी बात कहकर अपनी विद्वता और कार्यप्रणाली का परिचय दे दिया है। जैसे औरों को दो साल की रिटायरमेंट के बाद सेवा वृद्धि दी जाती है, जस्टिस यू यू ललित को भी देनी चाहिये, हम अगर केन्द्रीय लॉ मिनिस्टर‌ यानि कानून मंत्री होते तो जरूर‌ जस्टिस यू यू ललित को दो साल की सेवा वृद्धि दे देते।