पार्षद पति ने कराई नालों की सफाई और पानी की निकासी…

         नालों में मिट्टी भरने से घरों में घुसा पानी


ग्वालियर। किशनबाग से बरागांव तक बन रही सड़क के किनारे बने नालों में मिट्टी भरने से नाले जाम होने पर यहां रहने वाले लोग उस समय परेशानी में आ गए जब रात को नल आने पर इन लोगों के घरों में पानी भर गया। लोगों की शिकायत के बाद मौके पर पहुंचे पार्षद पति आसिफ अली खान ने नालों को साफ कराया और पानी की निकासी कराई। यहां के लोगों ने बताया कि इस क्षेत्र में रात को ही नल आते हैं। जब नल आते हैं तो नालियों में पानी का बहाव तेज हो जाता है। यहां सड़क निर्माण के कारण यहां के नालों में मिट्टी भर गई है। इस कारण पानी का निकास नहीं हो रहा है और सारा पानी सड़क पर फैलने से कीचड़ भी हो रही है। 

रात में जब नल आए तो पानी का बहाव तेज होने एवं पानी की निकासी का रास्ता बंद होने से यह पानी उन लोगों के घरों में भर गया। कुछ लोगों के घर का सामान भी इससे खराब हो गया। वार्ड के पार्षद सईदा आसिफ अली ने बताया कि रात को लोगों के घरों में पानी भरने की शिकायत के बाद यहां नालों की सफाई कराई गई है। सड़क निर्माण में अभी और समय लग सकता है, वहीं ठेकेदार से कहा गया है कि उनके काम से लोगों को परेशानी नहीं होना चाहिए। अधिकारियों को भी इसकी जानकारी दी गई है, कि वे यहां समय से काम कराएं जिससे कि समस्या का शीघ्र निराकरण हो सके। घोसीपुरा, किशनबाग, एबी रोड के दोनों तरफ तथा आस-पास की कॉलोनियों में अधिकांश लोगों के नल घर के बाहर खुले पड़े हैं। 

जब नल आते हैं और लोग पानी लेना शुरु करते हैं तब तक नलों से काफी पानी बह चुका होता है। वहीं जब लोगों के घर का पानी भर जाता है तो लोग फिर नल को खुला छोड़ देते हैं। कई लोग न तो पानी का बिल देते हैं और न ही उनके वैध कनेक्शन है। इस कारण लोग इन नलों पर ध्यान नहीं देते हैं। उधर निगम के अधिकारी भी ऐसे लोगों पर कार्रवाई नहीं करते हैं, इस वजह से पानी की भारी बर्बादी होती है। खुले पड़े नलों के कारण पानी की लाइनों में गंदा पानी भी भर जाता है इस कारण लोगों के नलों में गंदा पानी आने लगता है।