चुनावी गड़बड़ियों को रोकने के लिए नया कदम…

प्रदेश में 1 अगस्त से नये सिरे से बनेंगे वोटर आईडी !

भोपाल। मध्यप्रदेश में वोटर आईडी 1 अगस्त से नये सिरे से बनेंगे। चुनावी गड़बड़ियों को रोकने के लिए निर्वाचन आयोग ने सुधार की दिशा में नया कदम उठाया है। अब मतदाता पहचान कार्ड आधार से जोड़ा जाएगा। यह पहले से अधिक सुरक्षित कार्ड होगा, जो क्यूआर कोड से युक्त होगा। क्यूआर कोड से मतदाता की जानकारी मिलेगी। इससे यह पता चल सकेगा कि मतदाता असली है या फिर नकली। 

इसके लिए सभी मतदाताओं के आधार कार्ड नंबर को जुटाया जाएगा। आधार कार्ड नंबर के लिए कैम्प भी लगाए जाएंगे। आधारकार्ड से एपिक कार्ड को लिंक किया जाएगा। और बार कोड वाला हाईटेक रंगीन एपिक कार्ड मिलेगा। इसके लिए नए-पुराने दोनों मतदाता ऑफलाइन या ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। सभी मतदाताओं का आधार नंबर एकत्रित करने के लिए 1 अप्रैल का लक्ष्य तय किया गया है।