विकासखंड मुख्यालयों में सूची तैयार करके रिटर्निंग आफिसर करेंगे घोषित…

शुक्रवार को घोषित होंगे पंच, सरपंच और जनपद सदस्य के चुनाव परिणाम

भोपाल। मध्य प्रदेश में त्रिस्तरीय (ग्राम, जनपद और जिला) पंचायत के तीनों चरणों के चुनाव परिणाम गुरुवार एवं शुक्रवार को घोषित किए जाएंगे। गुरुवार को सुबह साढ़े दस बजे से विकासखंड मुख्यालय में पंच, सरपंच और जनपद सदस्य के चुनाव परिणाम घोषित होंगे। वहीं, जिला पंचायत सदस्य के निर्वाचन परिणाम शुक्रवार को घोषित किए जाएंगे। राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश में कुल 875 जिला पंचायत सदस्य, छह हजार 771 जनपद पंचायत सदस्य, 22 हजार 924 सरपंच और तीन लाख 63 हजार 353 पंच के पद के लिए चुनाव कार्यक्रम घोषित किया था। 

इसमें एक जिला पंचायत और 157 जनपद पंचायत सदस्य निर्विरोध निर्वाचित हुए। इसी तरह 712 सरपंच और दो लाख 33 हजार 620 पंच भी निर्विरोध चुन लिए गए। 97 सरपंच और 58 हजार 288 पंच पद के लिए किसी ने नामांकन पत्र ही जमा नहीं किया। इस प्रकार 874 जिला पंचायत सदस्य, छह हजार 614 जनपद पंचायत सदस्य, 22 हजार 115 सरपंच और 71 हजार 445 पंच पद के लिए तीन चरणों में मतदान हुआ। पंच, सरपंच और जनपद सदस्य के लिए मतदान केंद्र और विकासखंड मुख्यालय स्तर पर मतगणना प्रत्येक चरण का मतदान समाप्त होने के बाद हो चुकी है।

अब इसके परिणाम गुरुवार को घोषित होंगे। विकासखंड मुख्यालय पर रिटर्निंग आफिसर के समक्ष तीनों पदों के लिए सारणी तैयार की जाएगी। इसके बाद परिणाम घोषित होंगे। इसी तरह शुक्रवार को जिला मुख्यालय में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी जिला पंचायत सदस्य के चुनाव परिणाम घोषित करने की प्रक्रिया पूरी कराएंगे। जिला और जनपद सदस्यों में से अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का चुनाव होगा। इसके लिए कलेक्टर निर्वाचित सदस्यों का परिणाम की घोषणा होने के 15 दिन के भीतर सम्मेलन बुलाएंगे।

इसमें अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद के लिए चुनाव होगा। यह गैर दलीय आधार पर होगा। प्रदेश के 16 नगर निगम, 76 नगर पालिका और 255 नगर परिषद के चुनाव दो चरणों में कराए गए हैं। इनके परिणाम भी दो चरण में ही घोषित होंगे। पहले चरण के चुनाव में शामिल 11 नगर निगम, 36 नगर पालिका और 86 नगर परिषद के चुनाव की मतगणना और परिणामों की घोषणा 17 जुलाई को होगी। वहीं, दूसरे चरण में शामिल पांच नगर निगम, 40 नगर पालिका और 169 नगर परिषद के चुनाव की मतगणना और परिणाम की घोषणा बीस जुलाई को होगी।