स्वनिधि महोत्सव के तहत विभिन्न कार्यक्रमों का हुआ आयोजन…

स्वनिधि योजना का उद्देश्य है पिछड़ों को समृद्ध बनाना : श्री तोमर

ग्वालियर। प्रधानमंत्री पथ कर स्वनिधि योजना कोरोना काल में आर्थिक रूप से परेशान हुए पथ कर विके्रताओं के लिये संजीवनी की तरह सामने आई और पथ कर विके्रताओं को पुनः व्यवसाय करने के लिये आर्थिक रूप से संबल प्रदान किया। जिसके बाद आज हम सभी अपने सभी पथ विके्रता भाईयांे एवं उनके परिवारों के साथ स्वनिधि महोत्सव का आयोजन कर रहे हैं। जिसका मुख्य उद्देश्य पथ विके्रताओ व उनके परिवार का आर्थिक एवं सामाजिक विकास करना है। उक्ताशय के विचार प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने आज शनिवार को जीवाजी विश्वविद्यालय के अटल सभागार में आयोजित स्वनिधि महोत्सव के शुभारंभ के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में व्यक्त किये। 

गर निगम ग्वालियर द्वारा केन्द्र एवं राज्य सरकार के निर्देश पर आयोजित किये जा रहे आजादी के अमृत महोत्सव के तहत पथ विके्रताओं के परिवार को सामाजिक धारा से जोडने एवं उनके विकास के लिये स्वनिधि महोत्सव का आयेाजन किया जा रहा है। जिसके अंतर्गत विगत दिनों विभिन्न खेल एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं का आयेाजन किया गया। जिसमें पथ विके्रता के परिजनों द्वारा उत्साह से भाग लिया गया। इसी के तहत आज विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजयी प्रतिभागियों को सम्मानित एवं प्रोत्साहित करने के लिये मुख्य कार्यक्रम का आयोजन आज किया गया। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता ग्वालियर संासद विवेक नारायण शेजवलकर द्वारा की गई। कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में मध्य प्रदेश बीज विकास निगम के अध्यक्ष मुन्नालाल गोयल, भाजपा जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी सहित नवनिर्वाचित पार्षदगण एवं भारत सरकार के प्रतिनिधि अनिरवन घोष मुख्य रूप से उपस्थित रहे। 

कार्यक्रम के प्रारंभ में अतिथियों को स्वागत नगर निगम आयुक्त किशोर कन्याल द्वारा पौधे भेट कर किया गया। इस अवसर पर सांसद श्री शेजवलकर ने कहा कि कोरोना महामारी के बाद आर्थिक रूप से पिछड चुके परिवारों को स्वावलंबी बनाने के लिये देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पथ विक्रेता स्वनिधि योजना प्रांरभ की जिसमें बिना ब्याज एवं बिना किसी गारंटी के सबसे पहले 10 हजार रूपये का ऋण, इसके बाद 20 हजार रूपये का ऋण तथा 20 हजार जमा करने का बाद 50 हजार रूपये तक का ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। जिससे जहां पथ विक्रेता का व्यवसाय बड रहा है, वहीं उनको आर्थिक रूप से मजबूती भी मिल रही है। 

उन्होंने कहा कि आजादी के 100 वर्ष पूर्ण होने तक प्रधानमंत्री श्री मोदी जी द्वारा रोड मैप तैयार किया गया है कि देश के सभी पथ विके्रता विकास की नई ऊचांई पर खडे हों। इसके साथ ही उन्होंने 11 अगस्त से 17 अगस्त तक चलाए जा रहे हर घर तिरंगा अभियान के लिये भी नागरिकों से आग्रह किया कि वह अपने-अपने घर पर तिरंगा अवश्य लगायें। कार्यक्रम के प्रारंभ मंे नगर निगम आयुक्त किशोर कन्याल ने सभी उपस्थित अतिथियों व नागरिकों को स्वनिधि योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी तथा निगम द्वारा लाभांवित किये गए, हितग्राहियों की भी जानकारी दी। निगमायुक्त श्री कन्याल ने बताया कि नगर निगम ग्वालियर द्वारा 51363 पथ विके्रताओं कों पंजीक्रत किया गया है। 

जिसमंे 31965 पथ विके्रताओं को स्वनिधि योजना के तहत 34.62 करोड रूपये का ऋण उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने बताया कि आज कार्यक्रम के तहत आयोजन स्थल पर 20 स्वसहायता समूह के उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई गई है। इसके साथ ही 10 पथ विक्रेताओं द्वारा खाद्य सामग्री के स्टाॅल लगाय गए हैं तथा आमजनों को डिजीटल ट्रेनिंग देने के लिये फोन पे का स्टाॅल लगाया गया है। इसके साथ ही 8 प्रमुख बैंको द्वारा भी स्टाॅल लगाये गए हैं। कार्यक्रम के दौरान स्व रोजगार योजना के तहत 3 हितग्राहियों को ई-रिक्सा स्टेट बैंक के सहयोग से दिया गया हैं एवं 2 स्व सहायता समूहों को बैंक लिंकेज उपलब्ध कराया गया है। स्वनिधि महोत्सव के तहत आयोजित कार्यक्रम में पथ विक्रेता के परिजनों द्वारा विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमांे की प्रस्तुति दी गई। 

जिसमें बच्चों द्वारा देश भक्ति एवं धार्मिक गीतों पर डांस प्रस्तुति व अन्य प्रस्तुतियां एवं गानों की प्रस्तुति दी गई। स्वनिधि महोत्सव के तहत विगत दिनों से आयोजित की जा रहीं विभिन्न खेल एंव सांस्कृति प्रतियोगिताओं क्रिकेट, तीरंदाजी, चैयररेस, लंगडी खेल, अंताक्षरी, मेंहदी एवं रंगोली प्रतियोगिता में विजयी प्रतिभागियेां को प्रमाण पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया। इसके साथ ही आॅन दा स्पाॅट क्वीज प्रतियोगिता के सही जबाव देने वालों को मौके पर ही पुरूस्कार वितरित किये गए। नगर निगम आयुक्त किशोर कन्याल द्वारा स्वनिधि महोत्सव में उपस्थित सभी नागरिकों को नशामुक्त भारत के तहत कभी न नशा करने एवं अपने शहर व अपने देश को स्वच्छ बनाने के लिये अपना योगदान देने की शपथ दिलाई।