रेप कर जघन्य हत्या करने की घटना को गंभीरता से लेते हुए…

नाबालिग बालिका का रेप कर हत्या करने वाला दुर्दांत आरोपी गिरफ्तार

ग्वालियर। थाना हजीरा क्षेत्रान्तर्गत 9 वर्षीय बालिका की रेप कर जघन्य हत्या करने की घटना को गंभीरता से लेते हुए अति. पुलिस महानिदेषक ग्वालियर जोन डी.श्रीनिवास वर्मा द्वारा उक्त फरार आरोपी की गिरफ्तारी पर 25 हजार रूपये का इनाम घोषित करते हुए आरोपी को अतिशीघ्र पकड़ने हेतु निर्देशित किया गया था। पुलिस अधीक्षक अमित सांघी द्वारा अति. पुलिस अधीक्षक शहर (मध्य/यातायात) अभिनव चौकसे एवं अति. पुलिस अधीक्षक शहर (पूर्व/अपराध) राजेश डण्डोतिया को थाना बल एवं क्राईम ब्रांच की पृथक-पृथक टीमें बनाकर नावालिग बालिका की रेप कर हत्या करने वाले फरार दुर्दांत आरोपी को गिरफ्तार करने हेतु निर्देषित किया गया। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के निर्देशों के परिपालन में सीएसपी महाराजपुरा रवि भदौरिया के मार्गदर्शन में थाना हजीरा एवं क्राइम ब्रांच की टीमों द्वारा उक्त फरार आरोपी को पकड़ने हेतु दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, उत्तरप्रदेष के साथ-साथ ग्वालियर जिले की सरहद से लगने वाले जिलों में उसके छिपने के ठिकानों पर लगातार दबिस दी गई। 

उक्त आरोपी को पकड़ने के लिये पुलिस टीमें पंजाब भी गई जहां पर पुलिस टीम को जानकारी प्राप्त हुई कि उक्त आरोपी के विरूद्व थाना खमानो जिला फहेतगढ़ साहिब(पंजाब) में अप.क्र. 19/2009 धारा 15 एनडीपीएस एक्ट का प्रकरण पंजीबद्व हुआ था जिसमें उक्त आरोपी 07 वर्ष नाभा जेल में बंद रहा, उसके पूर्व वर्ष 2001 में पंजाब की पटियाला जेल में एडीपीएस के मामले में साढे़ तीन साल जेल में रहा था। इसके साथ ही एनडीपीएस के एक अन्य मामले में उक्त आरोपी आगरा जेल में भी 2 वर्ष की सजा काट चुका है। आज दिनांक 13.07.2022 को मुखबिर की सूचना पर से पुलिस टीम द्वारा उक्त रेप व हत्या के दुर्दांत आरोपी को थाना हजीरा क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया। ज्ञात हो कि दिनांक 27.06.2022 को फरियादी द्वारा थाना हजीरा आकर रिपोर्ट की गई थी कि दिनांक 26.06.2022 के दोपहर मेरा बेटा व 9 वर्ष की बेटी घर के पास स्थित मंदिर में खेल रहे थे। तभी मेरे बेटे ने घर आकर बताया कि मेरे मामा मेरी बेटी को आईसक्रीम खिलाने के लिये साथ ले गये हैं। 

काफी देर तक बेटी के वापस न आने पर जब मैंने अपने मामा के घर जाकर उनसे बेटी के संबंध में पूछा तो उन्होने बताया कि वह तो आईसक्रीम खिलाकर बेटी को छोड़ गये थे। तब मैने मामा से कहा कि मैं पुलिस में रिपोर्ट लिखाने जा रहा हॅू, उसके बाद फरियादी ने थाना हजीरा पर सूचना दी जिस पर से थाना हजीरा में अप.क्र. 310/2022 धारा 363 भादवि का प्रकरण अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व कायम कर विवेचना में लिया जाकर अपह्त बच्ची की तलाश की गई। दौराने जांच आसपास के क्षेत्रों में लगे हुए सीसीटीव्ही कैमरों के फुटेज की जांच करने पर पुलिस टीम को ज्ञात हुआ कि बच्ची को ले जाने वाला व्यक्ति फरियादी का मामा है, जब पुलिस द्वारा फरियादी के मामा की तलाष की गई तो वह घर से फरार हो गया। दिनांक 28.06.2022 को सुबह पुलिस को सर्चिंग के दौरान रेल्वे ट्रेक के पास झाड़ियों में एक नावालिग बच्ची का शव पड़ा हुआ मिला। पुलिस टीम द्वारा उक्त शव की शिनाख्त कराई गई जो थाना हजीरा क्षेत्र से दो दिन पहले अपह्त हुई 9 साल की बच्ची का निकला। 

घटना स्थल का निरीक्षण वरिष्ठ अधिकारियों एवं फारेंसिक टीम द्वारा किया गया। पुलिस द्वारा बच्ची के शव का पीएम कराने पर ज्ञात हुआ कि उसकी हत्या से पूर्व उसके साथ रेप भी किया गया है। पीएम रिपोर्ट के आधार पर पुलिस द्वारा फरियादी के मामा के खिलाफ अपह्रण, रेप, हत्या व पॉक्सोे एक्ट का प्रकरण पंजीबद्व कर आरोपी की तलाष की गई। उक्त जघन्य हत्या व रेप के ईनामी बदमाश को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी हजीरा निरीक्षक मनीश धाकड़, थाना हजीरा टीम- उप निरीक्षक नरेन्द्र छिकारा, सउनि राजवीर माबई, रामेन्द्र सेंगर, आरक्षक अरूण लोधी, संदीप जाट, हेमंत चौरसिया, रूपकिषोर शर्मा, लबकुश यादव, गिरर्जाशंकर मुदगल, भागीरथ, थाना महाराजपुरा के आरक्षक कुलदीप तोमर, विजय बघेल, राहुल दुबे थाना क्राईम ब्रांच- सउनि राजीव सोलंकी, प्र.आर. रामबाबू, आरक्षक आशीश शर्मा, गौरव आर्य की सराहनीय भूमिका रही।