पंचायत चुनाव में अशांति फैलाते उससे पहले…

सरपंच प्रत्याशी सहित तीन लोगों को डकैती की योजना बनाते हुए हथियारों के साथ किया गिरफ्तार

भिण्ड। पुलिस कप्तान शैलेन्द्र सिंह चौहान व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमलेश कुमार खरपूसे तथा अटेर एसडीओपी दिनेश वैश्य के मार्गदर्शन में त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव को शांति पूर्ण तरीके से सम्पन्न कराने के लिए भिण्ड पुलिस हर मोर्चे पर सतर्क है, हर अपराधी की कुण्डली खँगाली जा रही है, और उनको बाउण्ड ओवर से लेकर जिला बदर तथा एनएसए की कार्रवाई निरंतर की जा रही है। पुलिस कप्तान शैलेन्द्र सिंह चौहान ने आज पुलिस कंट्रोल रूम में पीसी में बोलते हुये कहा कि अटेर पुलिस को मुखबिर के जरिये विगत 11 जून को गुप्त सूचना प्राप्त हुई कि प्रतापपुरा के पास खाली पड़े रेस्टहाउस मेें कुछ व्यक्ति अवैध हथियारों के साथ डकैती की योजना बना रहे हैं, तभी थाना प्रभारी अटेर व सुरपुरा एवं पावई थाना प्रभारियों को घटनास्थल पर पहुँचने के निर्देश दिये गये, तभी वहाँ एक दिल्ली पास स्विफ्ट कार तथा चार आरोपी दिखे, जो पुलिस को देखकर भागने लगे तभी दल-बल ने उनको राउण्डअप किया गया। 

तलाशी ली गई तो उनके कब्जे से एक 306 बोर की बन्दूक व तीन जिंदा राउण्ड मय मैगजीन के, एक अधिया 315 बोर की, एक 315 बोर का कट्टा व एक 315 बोर की बन्दूक हाफ बट व साथ जिंदा राउण्ड बरामद किया गया। आरोपियों के विरूद्ध अपराध क्रमांक 106/22 धारा 399, 402 भादवि 11/13 एमपीडीपीके एक्ट 25(1)आम्र्स एक्ट कायम कर विवेचना प्रारम्भ कर दी है। पुलिस कप्तान शैलेन्द्र  सिंह चौहान ने कहा कि आरोपी जिन हथियारों को रखकर डकैती की योजना बना रहे थे उसमें एक जमसारा पंचायत का वर्तमान प्रत्याशी भी है, यदि वह समय रहते नहीं पकड़ा जाता तो निश्चित तौर पर पंचायत चुनाव में अशांति फैलाा सकता था, लेकिन वो ऐसा कर पाता उससे पहले भिण्ड पुलिस ने उसके सारे मंसूबों पर पानी फेर दिया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आरोपीगण मुन्ना, अरविन्द, बंटी व एक अन्य को अटेर पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जिनके कब्जे से एक बन्दूक 306 की हाथ से बनी व एक बन्दूक 315 बोर की हाफ बट, एक अधिया 315 बोर की देशी हाथ की, एक कट्टा 315 का हाथ से बना तथा तीन जिंदा राउण्ड 306 बोर के एवं सात जिंदा राउण्ड 315 बोर के तथा एक चार पहिया स्पिफ्ट सिल्वर कलर की मौके से जब्त की गई है। 

पुलिस कप्तान शैलेन्द्र सिंह चौहान ने सम्पूर्ण जिलेवासियों से अपील करते हुये कहा कि कहीं भी आपके आस-पास या फिर आपके संज्ञान में कहीं अवैध शराब, अवैध हथियार या फिर अन्य संदिग्ध गतिविधियाँ घठित हो रही हों, तो तत्काल मेरे मोबाइल नंबर या फिर संबंधित थाना प्रभारी को सूचित करें, आप सभी के नाम व पता गुप्त रखा जायेगा। आरोपीगणों को पकडऩे में अटेर  थाना प्रभारी उदयभान सिंह यादव, सुरपुरा थाना प्रभारी  अमित सिकरवार, पावई थाना प्रभारी सतेन्द्र सिंह कुशवाह, उपनिरीक्षक देवेन्द्र सिंह राठौर, उपनिरीक्षक नरेन्द्र सिंह यादव, सउनि दशरथ सिंह सिकरवार, सउनि भारत सिंह, देवेन्द्र सिंह, अभिषेक राजावत, महेन्द्र यादव, विकास चौहान, संदीप तोमर, भारत, राजकुमार, सुरेन्द्र सिंह, अनिल जाट, हरीश, विवेकानंद, सुदीप सिंह तोमर, मोहन की विशेष भूमिका रही।