भगवान चक्रधर के चरणों से प्रकट हुईं गङ्गा जी…

श्री सनातनधर्म मन्दिर में धूमधाम से मना गङ्गादशहरा

श्री सनातनधर्म मन्दिर में गङ्गादशहरा पर्व आज गङ्गा आरती के साथ धूमधाम से मनाया गया।आज प्रातः पट खुलने के साथ ही श्रद्धालुओं का आना प्रारम्भ हो गया।इसके पूर्व  मुख्य पुजारी पण्डित रमाकांत जी शास्त्री एवं पण्डित देवेन्द्र शास्त्री ने मंगला आरती के पश्चात भगवान श्रीचक्रधर एवं श्रीगिरिराजधरण का मन्त्रोच्चार के साथ गंगाजल से अभिषेक कर धोती,उपर्णा,पगड़ी, मोंगरे की माला से हल्का श्रृंगार किया। भक्त -श्रद्धालुओं ने भगवान के दर्शन-पूजन कर  फल,मटकी,पंखे,सत्तू दान कर पुण्य लाभ प्राप्त किया।

इस अवसर पर भगवान श्री चक्रधर के चरणों से गंगाजी प्रकट हुईं इस झांकी के दर्शन सभी भक्तों ने दर्शन किये। शाम को 6बजे मुख्य पुजारी रमाकांत जी शास्त्री ने  गङ्गा मैया की आरती की,सत्तू का भोग ठाकुरजी को अर्पित करने के उपरांत प्रसाद भक्तजनों में वितरण किया गया।भक्तों ने भजन कीर्तन भी गाये।इस अवसर पर प्रधानमंत्री महेश नीखरा, विमल माहेश्वरी, बाबाजी, नरेन्द्र मंगल,अजय गुप्ता, राजेश गर्ग, राधेश्याम मंगल,सन्तोष गुप्ता ब्रजेश भुजंग आदि उपस्थित रहे। वहीं 11 जून शनिवार को निर्जला एकादशी पर भगवान का विशेष श्वेत वस्त्र श्रृंगार होगा, भक्तों के लिए लगभग 500 गिलास ठंडाई का प्रसाद वितरण होगा साथ ही रात्रि जागरण भी होगा।