इतनी बड़ी लापरवाही के बाद भी सतना का रेलवे प्रशासन अंजान !

प्लेटफार्म छोड़ मालगाड़ियों के बीच मुख्य लाइन पर खड़ी कर दी ट्रेन, बाल-बाल बचे यात्री

सतना। कटनी से सतना जाने वाली 06625 मेमू ट्रेन के यात्री मंगलवार को उस वक्त सकते में आ गए जब ट्रेन अपने अगले स्टाप लगरगवां स्टेशन में रुकने वाली थी लेकिन वह प्लेटफार्म में न रुककर बीच की मुख्य लाइन में ही रोक दी गई। यह इसलिए हुआ कि प्लेटफार्म पर दोनों ओर मालगाड़ी खड़ी थी जिसके बाद मुख्य लाइन पर ट्रेन से यात्री उतरने लगे और वे फंस गए कि वे आखिर पटरी कैसे पार करें। 

जिसके कारण कई यात्री दुर्घटना का शिकार होते बाल-बाल बचे। हैरानी की बात रही कि इतनी बड़ी लापरवाही के बाद सतना का रेलवे प्रशासन अंजान रहा आखिर ट्रेन का स्टाप होने के बावजूद ट्रेन को प्लेटफार्म में न रोककर मुख्य लाइन में रोकने के कारण सुरक्षा और दुर्घटना का खतरा पैदा हो गया। पूरे मामले में सतना के क्षेत्रीय प्रबंधक आशीश रावलानी ने जांच की बात कही है। कटनी-सतना रेलखंड में सतना के पास लगरगवां रेलवे स्टेशन छोटा स्टेशन है। जहां यात्री सुविधाएं तक नहीं हैं। यहां केवल पैसेंजर ट्रेन ही रुकती है लेकिन इसका मतलब मुख्य लाइन में ट्रेन रोक देना कहां का नियम है। 

जिसे लेकर रेल यात्रियों ने भी सवाल खड़े किए। वहीं सवाल यह उठ रहा है कि जब प्लेटफार्म खाली नहीं था तो ट्रेन को स्टेशन आने कैसे दिया गया। इस दौरान दोनों तरफ मालगाड़ी खड़ी थी। दो ट्रेनों के बीच यात्री मेमू ट्रैन से उतरे। हैरानी की बात है कि ट्रैक पार करना अपराध होने के बावजूद ट्रेन ट्रैक पर ही खड़ी की गई। इस दौरान कोई हादसा भी हो सकता था।

इस मामले की जानकारी आपसे मिली है जिसकी जांच कराई जाएगी कि मुख्य लाइन में मेमु ट्रेन कैसे खड़ी हो गई - आशीष रावलानी, क्षेत्रीय प्रबंधक, सतना