NCC केडेट्स अपने अपने क्षेत्र में चलाएंगे रोकथाम व जागरूकता अभियान…

240 गर्ल्स केडेट्स ने लिया ग्वालियर को डेंगू–मलेरिया मुक्त बनाने का संकल्प

ग्वालियर। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. मनीष शर्मा के निर्देशन व जिला मलेरिया अधिकारी डा. नीलम सक्सेना के मार्गदर्शन में जिले में मलेरिया – डेंगू नियंत्रण हेतु किये जा रहे प्रयासों के तहत आज 30 मई 2022 को एम्बेड टीम व मलेरिया विभाग के कर्मचारियों द्वारा प्रशिक्षण व संकल्प कार्यक्रम 3 म.प्र. गर्ल्स बटालियन कम्पू में आयोजित किया गया। 

जिला समन्वयक फेमिली हेल्थ इंडिया एम्बेड परियोजना विजय मिश्रा ने बताया कि मलेरिया – डेंगू नियंत्रण में आमजन की भागीदारी सुनिश्चित करने के उद्देश्य से आयोजित किये जा रहे इन प्रशिक्षण कार्यक्रमों के माध्यम से लोगों को मच्छरों की पैदाइश को नियंत्रित करने तथा इनसे बचने के उपाय के विषय में विस्तार से जानकारी दी जा रही है ताकि लोग अपने घरों तथा घर के आसपास फालतू पानी जमा न होने दें, पानी को हमेशा ढँक कर रखें, बरसात से पूर्व घर से कबाड़ व गन्दगी साफ़ करे जिससे मच्छरों की पैदाइश को नियंत्रित कर शहर में डेंगू मलेरिया को नियंत्रित किया जा सके। 

प्रशिक्षण के दौरान मलेरिया निरीक्षक नरेन्द्र बाथम व एस डब्ल्यू नरेन्द्र  यादव द्वारा डेंगू -मलेरिया से बचाव सावधानियों व उपचार के विषय में विस्तार से जानकारी दी गयी जिसके साथ एम्बेड टीम के सुमित शर्मा, सुरेन्द्र व सुमित घंगोरिया द्वारा सभी को मच्छर का लार्वा दिखा कर उसे नष्ट करने के तरीके समझाए गए।

कार्यक्रम में उपस्थित 3 म.प्र. गर्ल्स बटालियन के कमान अधिकारी कर्नल जे.जे. अब्राहम ने उपस्थित सभी 240 अपने अपने घर तथा मोहल्ले में डेंगू से बचाव की जानकारी का प्रसार करने व लार्वा जाँच कर उसे विनिष्टिकृत करने तथा कूलर, टंकी गमले का पानी हर चौथे दिन साफ़ करने व बदलने की अपील की ताकि मच्छरों का पानी से संपर्क रोक कर लार्वा बनने से रोका जा सके। 

इस दौरान सभी केडेट्स को अपने अपने क्षेत्र में उक्त कार्य करने की सलाह दी गयी और कार्य की रिपोर्ट बटालियन कार्यालय में प्रस्तुत करने पर केडेट्स को अच्छे कार्य का प्रमाण पत्र भी दिए जाने की बात कही। कार्यक्रम के अंत में एम्बेड टीम द्वारा उपस्थित सभी 240 सहभागियों को निःशुल्क सेनेटाईज़र वितरित कर डेंगू – मलेरिया मुक्त ग्वालियर बनाने की शपथ दिलाई गयी।