दो दिवसीय जिला स्तरीय स्वास्थ्य मेले का हुआ शुभारंभ…

अंतिम पंक्ति के अंतिम व्यक्ति के इलाज की चिंता मुख्यमंत्री जी ने की है : तोमर

ग्वालियर। अंतिम पंक्ति का अंतिम व्यक्ति बिना इलाज के न रह जाए, इसकी चिंता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की है। इसी उद्देश्य से मुख्यमंत्री चौहान की पहल पर प्रदेश के हर जिले में स्वास्थ्य मेले लगाए जा रहे हैं। यह बात ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने जिला चिकित्सालय मुरार में शुक्रवार से शुरू हुए दो दिवसीय स्वास्थ्य मेला के उदघाटन अवसर पर कही। आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत आयोजित हो रहे इस दो दिवसीय जिला स्तरीय स्वास्थ्य मेला के उदघाटन कार्यक्रम की अध्यक्षता सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने की। इस अवसर पर बीज एवं फार्म विकास निगम के अध्यक्ष मुन्नालाल गोयल बतौर विशिष्ट अतिथि मंचासीन थे। ऊर्जा मंत्री तोमर ने कहा कि ग्वालियर शहर में स्वास्थ्य सेवाओं का लगातार विस्तार हो रहा है। जिला चिकित्सालय परिसर में नया भवन बन रहा है। साथ ही जिला चिकित्सालय में सीटी स्कैन मशीन सहित अन्य आधुनिक चिकित्सा सेवाओं की व्यवस्था की गई है। श्री तोमर ने इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए कि स्वास्थ्य मेले से ज्यादा से ज्यादा लोगों को लाभान्वित कराएं। 

सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने कहा कि आजादी के 75वे वर्ष पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्वास्थ्य सेवाओं सहित आम आदमी की छोटी-छोटी समस्याओं की चिंता की है। प्रधानमंत्री की मंशा है कि आजादी की 100वी वर्षगांठ के समय हमारा भारत पूर्ण स्वस्थ और दुनिया का श्रेष्ठ देश बनकर खड़ा हो। उन्होंने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आम आदमी के लिए राशन से लेकर बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं का इंतजाम किया है। इसी सिलसिले में स्वास्थ्य मेले लगाए जा रहे हैं। श्री शेजवलकर ने शिविर के माध्यम से अधिकाधिक आयुष्मान कार्ड और स्वास्थ्य आईडी बनवाने पर बल दिया। बीज एवं फार्म विकास निगम के अध्यक्ष मुन्नालाल गोयल ने कहा कि प्रदेश सरकार ने जिला चिकित्सालय मुरार के उन्नयन के लिये 20 करोड़ रूपए की धनराशि मंजूर की है। जिला चिकित्सालय में नया ऑक्सीजन प्लांट भी लगाया गया है। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री चौहान की पहल पर लगाए गए स्वास्थ्य मेले में विभिन्न बीमारियों के विशेषज्ञ चिकित्सकों की सुविधा भी शिविरों में उपलब्ध है। आरंभ में अतिथियों ने दीप प्रज्ज्वलित कर शिविर का शुभारंभ किया। 

कार्यक्रम में आईएमए की अध्यक्ष प्रियंवदा भसीन, वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. पुनीत रस्तोगी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मनीष शर्मा व सिविल सर्जन डॉ. आर के शर्मा तथा धर्मेन्द्र राणा व दिनेश दीक्षित सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण मंचासीन थे। कार्यक्रम का संचालन जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. आर के गुप्ता ने किया। उत्कृष्ट कार्य करने वाले स्वास्थ्य विभाग के पैरामेडीकल स्टाफ को इस अवसर पर प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में एक नन्ही-मुन्ही बालिका कु. अक्षरा ने सरस्वती वंदना पर शास्त्रीय नृत्य की मनोहारी संगीतमय प्रस्तुति दी। सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने अपनी सांसद निधि से मोहना नगर के लिये एक नई एम्बूलेंस सौंपी है। श्री शेजवलकर और बीज एवं फार्म विकास निगम के अध्यक्ष मुन्नालाल गोयल ने शुक्रवार को जिला चिकित्सालय से हरी झण्डी दिखाकर इस एम्बूलेंस को रवाना किया। 

जिला चिकित्सालय परिसर में शुक्रवार से शुरू हुए दो दिवसीय जिला स्तरीय स्वास्थ्य मेला में हृदय रोग, कैंसर, प्रसूति एवं स्त्री रोग, शिशु रोग, नेत्र रोग, अस्थि रोग, श्वसन चिकित्सा, न्यूरोलॉजी, गेस्ट्रोएन्टेरोलॉजी, मूत्र रोग, चर्म रोग, मानसिक रोग, नाक, कान व गला रोग व क्षय रोग सहित अन्य बीमारियों के विशेषज्ञ चिकित्सकों की सेवायें उपलब्ध कराई जा रही हैं। साथ ही विभिन्न बीमारियों की जांच भी लेबोरेटरी में नि:शुल्क कराई जा रही है। स्वास्थ्य मेले में पात्र परिवारों के आयुष्मान कार्ड और इच्छुक लोगों के डिजिटल हैल्थ कार्ड बनाने का काम भी किया जा रहा है। संबल योजना के कार्डधारक, खाद्यान्न पात्रता पर्चीधारी व सामाजिक आर्थिक संगणना की सूची में शामिल व्यक्ति, परिवार समग्र आईडी व राशनकार्ड, फोटो आईडी मसलन आधारकार्ड या सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त पहचान पत्र के आधार पर आयुष्मान कार्ड बनवाए जा सकते हैं। इसी तरह मोबाइल फोन नम्बर से लिंक आधारकार्ड के माध्यम से डिजिटल हैल्थ कार्ड बनवाया जा सकता है।