जनता के हर दु:ख–दर्द को दूर करने के लिये पूरी शिद्दत के साथ प्रयास जारी…

प्रदेश सरकार जन आकांक्षाओं पर खरी उतर रही है : सिंधिया


ग्वालियर। केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि प्रदेश में लोकोन्मुखी सरकार काबिज है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में सरकार जन आकांक्षाओं पर पूरी तरह खरी उतर रही है। सरकार ने जनता के हर दु:ख – दर्द को दूर करने के लिये पूरी शिद्दत के साथ प्रयास किए हैं। साथ ही जनकल्याणकारी योजनाओं को भी कारगर ढंग से मूर्तरूप दिया है। उन्होंने कहा कोविड संकटकाल के एक किलोवाट तक के बिजली बिल सरकार ने माफ कर दिए हैं। प्रदेश के 88 हजार उपभोक्ताओं के लगभग 6400 करोड़ रूपए के बिल मुख्यमंत्री विद्युत बिल राहत योजना के तहत माफ हुए हैं। इस योजना से ग्वालियर जिले के 61 हजार उपभोक्ताओं के 160 करोड़ रूपए के बिजली बिल भी सरकार ने भरे हैं। 

केन्द्रीय मंत्री सिंधिया मोतीझील से शर्मा फार्म हाउस (अति उच्च दाब उपकेन्द्र मोतीझील से विद्युत उपकेन्द्र बिरलानगर) तक बिछाई जाने वाली 33 केव्हीए मोनोपोल विद्युत लाइन एवं उप नगर ग्वालियर की अन्य विद्युत लाइनों के विस्तार कार्य के शिलान्यास समारोह को संबोधित कर रहे थे। लगभग 15 करोड़ रूपए की लागत से मोनोपोल लाईन बिछाने का काम किया जायेगा। अन्य विद्युत लाइनों का विस्तार लगभग 6 करोड़ रुपए की लागत से होगा। बुधवार की शाम यहाँ सागरताल चौराहे पर आयोजित हुए शिलान्यास समारोह में जिले के प्रभारी एवं जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट बतौर विशिष्ट अतिथि शामिल हुए। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। शिलान्यास समारोह को संबोधित करते हुए केन्द्रीय मंत्री सिंधिया ने कहा कि मोनोपोल विद्युत लाइन से उपनगर ग्वालियर की लगभग 20 हजार की आबादी लाभान्वित होगी। 


इससे मोतीझील से लेकर मुरार तक के निवासियों को उच्च गुणवत्ता के साथ निर्बाध रूप से बिजली मिल सकेगी। साथ ही हजीरा क्षेत्र के लगभग 2 हजार उन परिवारों को बड़ी राहत मिलेगी, जिनके घर के ऊपर से बिजली की पुरानी लाईनें गुजर रही हैं और हमेशा विद्युत दुर्घटना का अंदेशा बना रहता है। श्री सिंधिया ने उपनगर ग्वालियर क्षेत्र में बिजली की यह सौगात देने के लिये ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर की सराहना की। साथ ही कहा ‍कि श्री तोमर ने अपने सेवा भाव से आम जनता के दिलों में स्थान बनाया है। इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्री सिंधिया ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में आत्म निर्भर भारत का निर्माण हो रहा है। भारत का अन्नदाता अब अपने देश का ही नहीं पूरे विश्व का पेट भर रहा है। उन्होंने कहा ग्वालियर में जल्द ही अत्याधुनिक एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन का निर्माण होने जा रहा है।

प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कहा कि ग्वालियर शहर में स्वच्छता अब जन आंदोलन का रूप ले रहा है। हम सब मिलजुलकर ग्वालियर को स्वच्छता के साथ-साथ विकास के हर आयाम में अव्वल बनायेंगे। श्री सिलावट में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के जुझारूपन की सराहना की। साथ ही क्षेत्रीय निवासियों को विद्युत की यह सौगात मिलने के लिये बधाई और शुभकामनायें दीं। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि उपनगर ग्वालियर व हजीरा क्षेत्र में विकास के नए आयाम स्थापित हो रहे हैं। इसी कड़ी में मोनोपोल विद्युत लाइन व विद्युत लाईनों का विस्तार किया जा रहा है। उन्होंने कहा इससे अब क्षेत्रीय निवासियों को 24 घंटे अच्छे वॉल्टेज के साथ बिजली मिलेगी। श्री तोमर ने कहा कि ग्वालियर का सिविल हॉस्पिटल प्रदेश के सर्वोत्कृष्ट अस्पतालों में से एक है।


उन्होंने कहा कि क्षेत्र में सुरक्षा के वातावरण का भी निर्माण हुआ है। श्री तोमर ने क्षेत्र के विकास में सहयोग के लिये केन्द्रीय मंत्री सिंधिया के प्रति आभार व्यक्त किया। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर की पहल पर यह मोनोपोल विद्युत लाइन का निर्माण होने जा रहा है। इस मोनोपॉल लाइन में 400 एम्पियर विद्युत करंट सहने की क्षमता होगी। विद्युत फॉल्ट होने पर भी इस लाइन के माध्यम से जगनापुरा व लधेड़ी सहित 33/11 केव्ही सागरताल और बिरलानगर विद्युत उपकेन्द्र से जुड़ी अन्य बस्तियों में सुचारू रूप से बिजली की आपूर्ति हो सकेगी। इससे लगभग 20 हजार विद्युत उपभोक्ताओं को सतत रूप से गुणवत्तापूर्ण बिजली मिल सकेगी। साथ ही घनी बस्तियों के ऊपर से होकर गुजर रहीं पुरानी विद्युत लाइनों की वजह से होने वाली दुर्घटनाएँ भी नहीं होंगी। 

मोतीझील स्थित 132 केव्ही अति उच्चदाब उपकेन्द्र से 132 केव्ही अति उच्च दाब उपकेन्द्र मुरार को 33 केव्ही डबल सर्किट मोनोपॉल लाइन से जोड़कर 33/11 केव्ही उपकेन्द्र बिरलानगर तक नई मोनोपॉल लाइन डाली जायेगी। लक्ष्मण तलैया क्षेत्र में 33 केव्ही कर्मलन कॉन्वेंट उप केंद्र से संबंधित शिफ्टिंग कार्य (लागत 252 लाख), शहर के वार्ड-5 में रामनगर कॉलोनी व कृष्णानगर का विद्युतीकरण (लागत 45 लाख), उप नगर ग्वालियर के क्षेत्र क्रमांक-15 के अंतर्गत विभिन्न विद्युतीकरण व शिफ्टिंग कार्य( लागत 136 लाख),  वार्ड-5 में 11 केव्ही लाइन शिफ्टिंग (लागत 25 लाख), 11 केव्ही मोतीझील फीडर शिफ्टिंग कार्य (लागत 25 लाख) एवं 11 केव्ही चन्द्रनगर फीडर शिफ्टिंग कार्य। केन्द्रीय मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया एवं अन्य अतिथियों ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री विद्युत बिल राहत योजना के तहत प्रतीक स्वरूप 10 उपभोक्ताओं को बिजली बिल माफी के प्रमाण-पत्र भी सौंपे।