फरियादी ने ही बनाई थी फर्जी लूट की कहानी…

पुलिस ने चन्द घण्टों में किया चार लाख की फर्जी लूट का खुलासा

ग्वालियर। दिनांक 25.05.2022 को दोपहर करीव 02.15 बजे थाना भितरवार पुलिस को सूचना प्राप्त हुई कि तहसील परिसर भितरवार में 03-04 लडकों द्वारा कट्टे की नोक पर नोटरी का काम करने वाले के साथ मारपीट कर 04 लाख रूपये लूट कारित की है। उक्त लूट की घटना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ग्वालियर अमित सांघी द्वारा उक्त लूट की बारदात को गंभीरता से लेते हुए तत्काल एसडीओपी भितरवार अभिनव बारंगे को उक्त लूट की बारदात का खुलासा कर संलिप्त आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु निर्देषित किया गया। 

लूट की उक्त सूचना पर त्वरित कार्यवाही करते हुए एसडीओपी भितरवार अभिनव बारंगे एवं थाना प्रभारी भितरवार निरीक्षक प्रशान्त शर्मा व थाना प्रभारी करहिया उप निरीक्षक अजय सिकरवार मय पुलिस बल के लूट के घटना स्थल तहसील परिसर पहुंचे और लूट की घटना की तस्दीक की गई, घटना स्थल के आसपास के सीसीटीव्ही कैमरे भी चैक किये गये। एसडीओपी भितरवार द्वारा की गई जांच में प्रथम दृष्टया मारपीट की घटना कारित होना पाया गया। उसके बाद फरियादी से हिकमत अमली से पूछताछ की गई तो फरियादी द्वारा बताया गया कि मेरे साथ मारपीट की गई थी। 

मैं नोटरी का काम करता हूँ, मेरे पास कैश बहुत रहता है, इसलिये मुझे यह लगा की मारपीट के दौरान इन लोगों के मुझसे रूपये छुड़ा लिये हैं और मैने अपने साथ 04 लाख की लूट होने की बात कही थी लेकिन बाद में मैंने अपनी दुकान पर जाकर देखा तो मेरे लाँकर में पैसे सुरक्षित रखे हुए थे। मेरे साथ किसी भी प्रकार की लूट की घटना घटित नहीं हुई है। फरियादी के द्वारा बाद में अपने साथ हुई मारपीट की घटना की रिपोर्ट थाना भितरवार में दर्ज कराई गई। इस पर से थाना भितरवार पुलिस द्वारा अज्ञात आरोपियों के विरूद्व धारा 294, 323, 506, 34 ताहि की रिपोर्ट लेख की गई। इस प्रकार थाना भितरवार पुलिस की तत्परता से लूट की झूठी बारदात का चंद घण्टों में ही खुलासा हो गया।