मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने ग्वालियर-चंबल संभाग के उप जिला निर्वाचन अधिकारियों की ली बैठक…

नए मतदाताओं के परिचय पत्र बनाने का काम गरूण एप के माध्यम से ही किया जाए : अनुपम राजन

ग्वालियर। ग्वालियर-चंबल संभाग में 15 जून तक अभियान चलाकर छूटे हुए मतदाताओं को जोड़ने का कार्य किया जायेगा। महिला मतदाताओं को विशेष तौर से मतदाता सूची में जोड़ने हेतु घर-घर संपर्क किया जाएगा। मध्यप्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन ने गुरूवार को नवीन राजस्व भवन के सभाकक्ष में ग्वालियर – चंबल संभाग के निर्वाचन से जुड़े अधिकारियों की बैठक में यह बात कही। निर्वाचन के संबंध में विभिन्न पहलुओं पर आयोजित इस बैठक में अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी राजेश कॉल, संभागीय अपर आयुक्त सपना निगम सहित ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी जिलों के उप जिला निर्वाचन अधिकारी और सुपरवाइजर उपस्थित थे। 

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन ने कहा है कि 18 वर्ष से ऊपर का कोई भी व्यक्ति मतदाता सूची से बाहर नहीं रहना चाहिए। सभी को मतदान का अधिकार है इसके लिए जरूरी है कि विशेष अभियान चलाकर ऐसे सभी मतदाता जो मतदाता सूची में नहीं हैं उन्हें सूची में जोड़ने का कार्य किया जाए। ग्वालियर चंबल संभाग के प्रत्येक जिले में इसके लिये 15 जून तक विशेष अभियान चलाया जाए। आवश्यकता अनुसार घर-घर संपर्क भी किया जाए, ताकि जो मतदाता, मतदाता सूची में शामिल हैं उनका मतदाता परिचय पत्र बनाया जा सके। 

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन ने कहा कि नवीन मतदाताओं के मतदाता परिचय पत्र तैयार करने हेतु आयोग द्वारा गरूण एप तैयार किया गया है। सभी जिलों में नए मतदाताओं को जोड़ने का कार्य गरूण एप के माध्यम से ही किया जाए। ग्वालियर संभाग के दतिया जिले में इस दिशा में सराहनीय कार्य किया गया है। उन्होंने ग्वालियर-चंबल संभाग के अन्य जिलों से भी अपेक्षा की है कि मतदाता परिचय पत्र बनाने, संशोधित करने का कार्य गरूण एप के माध्यम से ही सभी बीएलओ करें, यह सुनिश्चित किया जाए। बैठक में यह भी निर्देशित किया गया कि नवीन मतदाता परिचय पत्र बनाने, त्रुटियों को ठीक करने और मतदाता सूची से गलत नाम काटने के कार्य को पूर्ण सावधानी के साथ किया जाए। 

कोई भी सही व्यक्ति मतदाता सूची से बाहर नहीं होना चाहिए और कोई भी पात्र व्यक्ति मतदाता परिचय पत्र प्राप्त करने से वंचित न रहे, यह भी सुनिश्चित किया जाए। बैठक में यह भी बताया गया कि एक हजार मतदाता पर 940 महिला मतदाता होना चाहिए। ग्वालियर-चंबल संभाग के जिन जिलों में यह रेश्यो ठीक नहीं है वहाँ पर अभियान चलाकर महिलाओं को मतदाता परिचय पत्र प्रदान करने का कार्य किया जाए। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन ने कहा कि सभी जिलों में उप जिला निर्वाचन अधिकारी मतदान केन्द्रवार मतदाताओं की कुल संख्या और महिलाओं की संख्या का परीक्षण करें, जिन केन्द्रों पर महिलाओं की संख्या कम है वहाँ पर विशेष अभियान चलाकर मतदाता परिचय पत्र तैयार करने का कार्य किया जाए। 

बैठक में लंबित आवेदन पत्रों की भी विस्तार से समीक्षा की गई। ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी जिलों में नए मतदाता कार्ड बनाने, संशोधित करने तथा मतदाता सूची से नाम हटाने के संबंध में जो आवेदन पत्र लंबित हैं उनको निर्धारित समय-सीमा में निराकृत करने के संबंध में भी दिशा-निर्देश दिए गए। बैठक में ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी जिलों से आए उप जिला निर्वाचन अधिकारियों ने अपने-अपने जिले में निर्वाचन के संबंध में किए जा रहे कार्यों की विस्तार से जानकारी दी। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन ने समीक्षा बैठक के पूर्व ग्वालियर जिले के सभी बीएलओ के साथ चर्चा की। 

उन्होंने चर्चा के दौरान बीएलओ द्वारा किए जा रहे कार्यों के संबंध में जानकारी ली। इसके साथ ही सभी को निर्देशित किया कि वे अपने-अपने क्षेत्र में निरंतर संपर्क में रहें और मतदाता सूची में नाम जोड़ने, त्रुटि सुधारने अथवा मतदाता सूची से गलत नाम हटाने से संबंधित कार्य है उसको तत्परता से करें। सभी बीएलओ को यह भी निर्देशित किया गया कि नवीन मतदाता परिचय पत्र बनाने का कार्य आयोग द्वारा निर्धारित गरूण एप के माध्यम से ही किया जाए। ऑफलाइन आवेदन लेकर परिचय पत्र तैयार करने के कार्य को बंद करें और एप के माध्यम से ही कार्य करें। बैठक में बीएलओ ने अपने-अपने कार्यों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी।