परिजनों को 4-4 लाख रुपये की आर्थिक सहायता …

 छिंदवाड़ा जिले में माचागोरा बांध में डूबने से चार बच्चोंक की मौत


छिंदवाड़ा। चौरई के माचागोरा डेम में नहाने गई तीन बच्चियों और एक बच्चे की डूबने से मौत हो गई है। हादसा बुधवार शाम 5.30 बजे के आसपास हुआ है। नहाने गए सभी बच्चे डूब क्षेत्र पुनर्वास कालोनी बरहबरियारी गांव के निवासी थे, घटना की जानकारी लगते ही क्षेत्र में हड़कंप मच गया। एसडीओपी चौरई शशि विश्वकर्मा ने बताया कि मृतकों के शव गाेताखोरों की मदद से निकाले गए और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए गए हैं। 

इस हादसे पर शोक जताते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि छिंदवाड़ा जिले के मचगोरा बांध में डूबने से 4 बच्चों के निधन का समाचार हृदय विदारक है। मन अत्यधिक पीड़ा से भरा है। ईश्वर से मासूम बच्चों की आत्मा को शांति और परिजनों को यह वज्रपात सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं। उन्हों ने कहा कि मृतक बच्चों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। हादसे में बरहबरियारी गांव की रहने वाली सृष्टि पिता संजय मसराम (7), प्राची पिता बसंत उइके (9) प्रिया पिता बसंत उइके (11) और शेख पिता घनश्यमाम तेकाम (10) की मौत हो गई धनोरा के सरपंच परसराम वर्मा ने बताया कि सभी बच्चे नहाने के लिए गए हुए थे, गहराई में जाने के कारण ये हादसा हो गया। 

फिलहाल सभी शवों को बाहर निकाल लिया गया है प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक सभी बच्चे खेत में खेलते, खेलते माचागोरा डेम में नहाने पहुंच गए और नहाते, नहाते गहरे खोह में समा गए। लोगों ने बच्चों को बचाने की काेशिश की, लेकिन सफल नहीं हो सके, इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई, लेकिन जब तक पुलिस मौके पर पहुंची काफी देर हो चुकी थी और बच्चों को नहीं बचाया जा सका। फिलहाल परिजनों का घटना के बाद से रो, रोकर बुरा हाल है।

ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पहुंचे, सभी शव निकाल लिए गए हैं, जिसके बाद आगे की कार्रवाई की जा रही है - शशि विश्वकर्मा, एसडीओपी चौरई