दो पक्षों के मध्य हुए विवाद एवं फायरिंग के दौरान साहसपूर्वक…

अपराधियों से हथियार छीनकर गंभीर घटना को रोकने वाले आरक्षकों को SSP ने किया सम्मानित

ग्वालियर। थाना ग्वालियर क्षेत्र में दो पक्षों के मध्य हुए विवाद एवं फायरिंग के दौरान साहसपूर्वक अपराधियों से हथियार छीनकर एक गंभीर घटना को रोकने के उत्कृष्ट कार्य के लिये थाना ग्वालियर में पदस्थ आरक्षक सुमित शर्मा एवं आरक्षक फिरोज खांन को पुलिस महानिरीक्षक ग्वालियर जोन अनिल शर्मा के निर्देषानुसार आज पुलिस कन्ट्रोल रूम सभागार में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ग्वालियर अमित सांघी द्वारा प्रशंसा पत्र तथा पांच हजार रूपये नगद पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया और उनके द्वारा दोनों आरक्षकों के साहस की प्रषंसा की। 

इस अवसर पर अति. पुलिस अधीक्षक शहर (मध्य/यातायात) ग्वालियर अभिनव चौकसे, अति. पुलिस अधीक्षक शहर (पूर्व/अपराध) ग्वालियर  राजेष दण्डोतिया एवं थाना प्रभारी क्राईम ब्रांच निरीक्षक दामोदर गुप्ता, थाना प्रभारी ग्वालियर निरीक्षक आलोक सिंह परिहार सहित पुलिस के अधिकारी व कर्मचारीगण उपस्थित रहे। 

पुलिस महानिरीक्षक ग्वालियर जोन अनिल शर्मा द्वारा उक्त दोनों  आरक्षकों को आगामी स्वतंत्रता दिवस पर आयोजित समारोह में भी सम्मानित किये जाने की घोषणा की है। ज्ञात हो कि थाना ग्वालियर क्षेत्रान्तर्गत घासमण्डी पुलिस चैकी के पास एकत्रित हुए बदमाषों के गुटों में आपसी विवाद में गोली चलने की घटना कारित हुई थी। जिस पर से चैकी पर उपस्थित आरक्षक सुमित शर्मा द्वारा गोली की आवाज सुनकर तत्काल मौके पर पहुंचकर फायर कर रहे अपराधी के हाथ से पिस्टल छीनकर बड़ी घटना को घटित होने से रोका गया। इसी दौरान उसके साथ ड्यूटी पर उपस्थित एक अन्य आरक्षक फिरोज खांन भी मौके पर पहुंचा तो मौके से सभी बदमाष पुलिस की उपस्थिति देखकर भाग गये।