शासन की नाकामी पर कांग्रेसी विधायक ने जाकर मांगी माफी…

भगवान शिव मध्यप्रदेश के शासकों को सद्बुद्धि दे : संजय शुक्ला

 

इंदौर। मध्यप्रदेश शासन के द्वारा बनाए गए अनावश्यक दबाव के चलते हुए महाशिवरात्रि के मौके पर शिव पुराण कथा तथा रुद्राक्ष अभिषेक को स्थगित करने वाले शिव ज्ञाता पंडित प्रदीप मिश्रा से आज सीहोर जाकर कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला  विशाल पटेल और मनोज चावला ( आलोट ) ने माफी मांगी। इसके साथ ही उन्होंने सीहोर के पवित्र आश्रम में बैठकर भगवान शिव से प्रार्थना की कि वह मध्यप्रदेश में शासन हड़प कर सरकार चला रहे लोगों को सद्बुद्धि दे। दोनो विधायक आज सीहोर में पंडित मिश्रा के आश्रम पर पहुंचे।

मध्यप्रदेश के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ जब किसी विद्वान प्रवचन कार के द्वारा व्यास पीठ पर आंसू बहाते हुए अपने आयोजन को निरस्त करने का ऐलान किया गया। इस घटना से व्यथित विधायक शुक्ला आज अपने साथी विधायक पटेल चावला के साथ पंडित प्रदीप मिश्रा के सीहोर के आश्रम पर पहुंचे। वहां जाकर उन्होंने पंडित जी से मुलाकात की। शुक्ला ने कहा कि मध्यप्रदेश शासन की व्यवस्था संभालने में नाकामी के चलते हुए हजारों शिव भक्तों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। इस स्थिति पर क्षोभ व्यक्त करते हुए विधायक शुक्ला के द्वारा इन हालात के लिए पंडित मिश्रा से माफी मांगी गई।

इसके जवाब में पंडित मिश्रा ने कहा कि गलती आप लोगों ने या कांग्रेस ने नहीं की है। जिन लोगों ने शिव महिमा के आयोजन में बाधा डाली है वे लोग अपनी स्थिति को देखेंगे। इस मौके पर विधायक शुक्ला के द्वारा पंडित मिश्रा के सीहोर के निर्माणाधीन पवित्र आश्रम में बैठकर मां पर भगवान शिव से प्रार्थना की गई। इस प्रार्थना में प्रभु से आग्रह किया गया कि मध्यप्रदेश में सरकार हड़प कर सरकार का संचालन कर रहे लोगों को सद्बुद्धि दे और धर्म के मार्ग पर चलने की प्रेरणा दें।