रोग मुक्त भारत अभियान के अन्तर्गत चिकित्सा शिविर का आयोजन…

प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति को अपनाकर बगॆर दवाओं के स्वस्थ रहा जा सकता हैं  : डॉ. सिकरवार

रोग मुक्त भारत के कार्यक्रम में  सुरेन्द्र शुक्ला ने उपस्थित लोगों को स्वस्थ रहने के लिए कई मंत्र दिए जैसे कब्ज से छुटकारा पाकर आप कैसे अपने शरीर को स्वस्थ रख सकते हैं साथ ही संतुलित आहार, भोजन कब और कितनी मात्रा में करना चाहिए, अपने जीवन में शरीर को स्वस्थ रखने के लिए मनुष्य की दिनचर्या और खानपान कैसा होना चाहिए, साथ ही आज के समय में होने वाली नई-नई बीमारियों से छुटकारा पाने के लिए बगैर अंग्रेजी दवाइयों के भी आप शरीर को कैसे स्वस्थ रख सकते हैं और प्रकृति से जुड़कर एक लंबी आयु का जीवन जी सकते हैं। इस दॊरान लोगों ने अपनी बीमारियों को दूर करने के लिए उपाय भी पूछे। सुरेन्द्र शुक्ला ने  स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं सुनी और उनके निवारण के उपाय भी बताएं।

आई एन ओ के प्रदेश उपाध्यक्ष हरिओम गौतम  ने बताया कि इंटरनेशनल नेचरोपैथी ऑर्गेनाइजेशन (INO) एक सामाजिक संस्था है जो देश के सर्वांगीण विकास हेतु समर्पित है पिछले 30 वर्षों से राष्ट्र निर्माण गतिविधियों के साथ-साथ योग चिकित्सा का ज्ञान तथा लाभ घर-घर तक पहुंचाने का कार्य कर रही है। इस अवसर पर विधायक डॉ॰ सतीश सिंह सिकरवार ने कहा कि प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति को अपनाकर हम स्वस्थ जीवन जी सकते हैं, अनियमित दिनचर्या व खानपान से‌ हम शरीर में बीमारियां बढ़ाते जा रहे हैं। उन्होंने इस अवसर पर रमन शिक्षा समिति द्वारा समाजसेवा में किये‌ जा रहे कार्यों की‌ सराहना की। डॉ. सचेत व्यास ने कार्यक्रम में कहा कि अंकुरित अनाज का सेवन करेगे तो रोगों से मुक्त रहेंगे और दीर्घ आयु प्राप्त होगी प्राकृतिक चिकित्सा ही सभी रोगों का मूल निवारक है।

कार्यक्रम के अंत नेचुरोपैथी के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले लोगों एवं रोगमुक्त भारत अभियान के तहत आयोजित प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले बच्चों को‌ पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर रामदास माहॊर, गोपाल सिंह माहॊर, प्रीतम सिंह माहॊर, जितेन्द्र सिंह कुशवाह, ज्वालाप्रसाद माहॊर, श्रीमती‌ रजनी माहॊर, श्रीमती बसन्ती शाक्य, श्रीमती लक्ष्मी वर्मा, ओमप्रकाश सगर, रामनाथ माहॊर, वीरेन्द्र सुमन, कन्हैयालाल कुशवाह सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। इस अवसर पर रामदास माहॊर, गोपाल सिंह माहॊर, प्रीतम सिंह माहॊर, जितेन्द्र सिंह कुशवाह, ज्वालाप्रसाद माहॊर, श्रीमती‌ रजनी माहॊर, श्रीमती बसन्ती शाक्य, श्रीमती लक्ष्मी वर्मा, ओमप्रकाश सगर, रामनाथ माहॊर, वीरेन्द्र सुमन, कन्हैयालाल कुशवाह सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।