तुर्की में चौथे दौर की शांति वार्ता आज से…

18 दिन बाद कीव से पीछे हटी रूसी सेना !


33 दिन से यूक्रेन और रूस के बीच जंग जारी है। इसी बीच यूक्रेनी मिलिट्री ने दावा किया है कि 18 दिन बाद रशियन सेना राजधानी कीव से पीछे हट रही है। रूसी सेना ने 10 मार्च को कीव को तीन ओर से घेर लिया था। हालांकि रूसी सेना अब उत्तरी हिस्से में रिग्रुप हो रही है। वहीं, यूक्रेन के शहरों पर रूसी हमले के बीच आज दोनों देश के प्रतिनिधि तुर्की के इंस्ताबुल में चौथे राउंड की शांति वार्ता के लिए बैठक करेंगे। रूस-यूक्रेन के बीच अब तक 28 फरवरी, 1 मार्च और 7 मार्च को शांति वार्ता हो चुकी है, लेकिन सुलह की राह नहीं निकल सकी है। सोमवार की मीटिंग से पहले तुर्की के राष्ट्रपति तैयपे अर्दोगन ने कहा है कि 6 प्वाइंट में से 4 पर दोनों देशों के बीच सहमति बन गई है, जिसमें यूक्रेन के NATO में शामिल नहीं होने की शर्त भी शामिल है। 

इधर, यूक्रेनी राष्ट्रपति वोल्दोमीर जेलेंस्की ने रूस के पत्रकार को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि हम रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की शर्तों के तहत समझौता नहीं करेंगे। हालांकि, हम शांति वार्ता को लेकर न्यूट्रल नीति अपना रहे हैं। UN की रिपोर्ट में भले ही 1119 लोगों की मौत का दावा किया गया है, लेकिन यूक्रेन प्रॉसीक्यूशन जनरल ऑफिस अपने 2500 से ज्यादा नागरिकों की मौत अकेले मारियुपोल शहर में होने का दावा कर रहा है। UN की रिपोर्ट में भले ही 1119 लोगों की मौत का दावा किया गया है, लेकिन यूक्रेन प्रॉसीक्यूशन जनरल ऑफिस अपने 2500 से ज्यादा नागरिकों की मौत अकेले मारियुपोल शहर में होने का दावा कर रहा है। 

तुर्की के राष्ट्रपति तैयप अर्दोगन ने रूसी राष्ट्रपति पुतिन से फोन पर बात की है। अर्दोगन ने पुतिन से यूक्रेन पर हमला रोकने को कहा है। तुर्की ने कहा है कि युद्ध रोक कर शांति ही एक मात्र स्थाई हल है। अर्दोगन ने रूस और यूक्रेन के शांति बैठक का भी स्वागत किया है और कहा है कि उम्मीद है, दोनों देश समझौते की राह पर चलेंगे।यूक्रेन डिफेंस इंटेलिजेंस विभाग के प्रमुख किरिलो बुडानेव ने दावा किया है कि पुतिन यूक्रेन को दो भागों में बांटना चाहता है। उन्होंने कहा कि नॉर्थ और साउथ कोरिया के तर्ज पर पुतिन ईस्टर्न और वेस्टर्न यूक्रेन बनाना चाहता है। 

बुडानेव ने कहा कि रूस अपने बॉर्डर से लेकर क्रीमिया तक लैंड कॉरिडोर बनाने की कोशिश में भी जुटा है।यूक्रेन ने दावा किया है कि 33 दिन के युद्ध में करीब 78 हजार करोड़ रुपए के इंफ्रास्ट्रक्चर ध्वस्त हो चुके हैं। राजधानी कीव, लीव सहित कई शहरों के आवासीय परिसर पूरी तरह बर्बाद हो चुके हैं। लोग बंकर में छुपकर अपना जीवन व्यतीत कर रहे हैं।जंग के बीच यूक्रेनी सेना का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें गिरफ्तार किए गए रूसी सैनिकों को टॉर्चर किया जा रहा है। वीडियो वायरल होने के बाद रूस ने जांच कमेटी बनाई है। कमेटी के चेयरमैन एलेक्जेंडर बास्ट्रीकिन ने कहा कि वीडियो खार्किव शहर की है। हम सबूत जुटाकर मामले में न्याय करने की कोशिश करेंगे।

युद्ध के बड़े अपडेट्स --

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रॉ ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के कसाई वाले बयान पर टिप्पणी करने से इंकार कर दिया है। उन्होंने कहा कि हमारा ध्यान युद्ध रोकने पर है। पोलैंड दौरे के दौरान बाइडेन ने पुतिन को कसाई बताया था।

यूक्रेन ने जंग के बीच बेलारूस पर शिकंजा कस दिया है। लवीव शहर में बेलारूस के वाणिज्य दूतावास बंद करने का निर्णय लिया गया है।

यूक्रेन की राजधानी कीव और लुट्सक में रूस ने एयर स्ट्राइक की है। द कीव इंडिपेंडेंट के मुताबिक, इन दोनों शहरों में जोरदार धमाके की आवाज सुनी गई है।