3 वर्ष पहले पुलवामा हमले में शहीद हुए सेनानियों को दी श्रद्धांजलि…

शहीदों की शहादत को याद रखना ही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि

 

ग्वालियर। चित्रांश इंटरनेशनल वेलफेयर ऑर्गेनाइजेशन ने आज गोविंदपुरी चौराहे पर विगत 3 वर्ष पहले पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए सेनानियों को कैंडल जलाकर श्रद्धांजलि अर्पित की

वह जिंदगी क्या जिसमें देश भक्ति ना हो...

वह मौत ही क्या जो तिरंगे में लिपटी ना हो,

उक्त उदगार चित्रांश इंटरनेशनल वेलफेयर ऑर्गेनाइजेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्याम श्रीवास्तव ने पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए सैनानियों को श्रद्धांजलि देते हुए व्यक्त किए। ह्रदय विदारक घटना को याद करते हुए उन्होंने कहा की शहीद सेनानियों की शहादत को भुलाया नहीं जा सकता।

आज हम सब अपने अपने घरों में अमन चैन की सांस ले रहे हैं बह उन्हीं सैनिकों की बदौलत है जो बॉर्डर पर अपना घर परिवार छोड़कर देश की रक्षा के लिए खड़े हुए हैं। इस अवसर पर पूर्व अध्यक्ष एवं संरक्षक नूतन श्रीवास्तव ने कहां कि शहीदों की शहादत को भुलाया नहीं जा सकता। जो क्षति देश को हुई है उसकी पूर्ति नहीं की जा सकती। श्रद्धांजलि सभा के संयोजक चित्रांश के राष्ट्रीय सचिव अमन श्रीवास्तव ने बताया कि आज का दिन वैलेंटाइन डे के रुप मनाते हुए इसे देश भक्ति के रुप में मनाया जाए।

इस अवसर पर चित्रांश इंटरनेशनल वेलफेयर आर्गेनाइजेशन राष्ट्रीय अध्यक्ष श्याम श्रीवास्तव पूर्व अध्यक्ष एवं संरक्षक नूतन श्रीवास्तव राष्ट्रीय सचिव अमन श्रीवास्तव संभागीय अध्यक्ष अनूप श्रीवास्तव  एवं विशेष अतिथि खगेनद्र भार्गव महिला अध्यक्ष आरती श्रीवास्तव जिला उपाध्यक्ष सत्येंद्र श्रीवास्तव अंकुर श्रीवास्तव राकेश श्रीवास्तव रवि शेखर श्रीवास्तव मीडिया प्रभारी आशीष श्रीवास्तव  रवि दुबे सहित ने पदाधिकारी मौजूद रहे।