मैं दुनिया के सामने सच लेकर जाता हूं…

मैंने किसी के माता, पिता, नाना, दादा के लिए कुछ नहीं कहा : PM मोदी

 

पिछले कई सालों से राजनीति में परिवारवाद और कांग्रेस को निशाना बना रहे पीएम नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर इस मुद्दे को उठाया। उन्होंने कहा कि संसद में बजट सत्र के अभिभाषण में उन्होंने कुछ ऐसा नहीं कहा था, जिस पर कांग्रेस को इतना उत्तेजित होना चाहिए। पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार को दिए एक इंटरव्यू में कहा, 'मैंने किसी के पिता, माता, नाना, दादा के लिए कुछ नहीं कहा। देश के प्रधानमंत्री ने क्या कहा, मैंने सिर्फ वो कहा है। मैंने बाताया कि एक प्रधानमंत्री के ये विचार थे तब क्या स्थिति थी और आज प्रधानमंत्री के ये विचार हैं तब क्या स्थिति है।'

बता दें कि पीएम मोदी ने संसद में दिए अपने भाषण में पूर्व पीएम जवाहर लाल नेहरू को लेकर कई टिप्पणियां की थी। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस सरकार के समय में देश कैसा था और अब कैसा है। उन्होंने कांग्रेस सरकारों के समय हुए घोटालों और दंगों के मुद्दे उठाकर भी प्रमुख विपक्षी पार्टी पर करारे निशाने साधे थे। परिवारवाद पर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कुछ नेता स्वार्थ के लिए विविधता को एक दूसरे के साथ विरोध के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं।

पिछले 50 साल उन्होंने यही किया है, हर बात पर देश को बांटों और राज करो। उन्होंने कहा कि परिवारवादी पार्टियां लोकतंत्र का सबसे बड़ा खतरा है। जब परिवार ही सर्वोपरि होता है और 'परिवार को बचाओ पार्टी बचे बचे, देश बचे बचे' वाली मानसिकता होती है तो सबसे बड़ा नुकसान टैलेंट को होता है। टैलेंट को सामने लाना जरूरी है। पीएम मोदी ने कहा कि, भारतीय जनता पार्टी हार-हार कर ही जीतने लगी है। हमने बहुत पराजय देखी है, जमानत जब्त होती देखी है।

एक बार जनसंघ के समय चुनाव हारने पर भी मिठाई बांटी जा रही थी, तो हमने पूछा की हारने पर मिठाई क्यों बांट रहे हैं? तब बताया गया कि हमारे तीन लोगों की जमानत बच गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि विकास सबका सब जगह होना चाहिए। देश की एकता देश को आगे ले जाने के लिए जरूरी है। बीजेपी का मंत्र- सबका साथ, सबका विश्वास है। मैं दुनिया के सामने सच लेकर जाता हूं। भारत आज दुनिया में आकर्षण का केंद्र बन चुका है। कोरोना काल में हमने दुनिया की मदद की, जिसका नतीजा है कि आज विश्व में भारत ने अपनी अलग पहचान बनाई है। बीजेपी ने अपने सिद्धांतों को कभी नहीं बदला। बीजेपी देश की जनता पर भरोसा करती है।