Rarest Of The Rare

PM मोदी की सुरक्षा में चूक पर सुप्रीम कोर्ट की फटकार

 

नई दिल्ली l पंजाब के फिरोजपुर में बीते 5 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में हुई चूक के मामले पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने सख्त टिप्पणी की है l सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ये Rarest Of The Rare केस है l दोबारा ऐसा नहीं होना चाहिए l

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में हुई चूक के लिए एक जांच टीम बनाई गई है जो अब पंजाब के फिरोजपुर पहुंची है। सुरक्षा में हुई चूक की जांच के लिए गठित पैनल फिरोजपुर में मामले की जांच कर रही है। फिरोजपुर में पीएम कैसे फंसे और आखिर प्रदर्शनकारी कौन थे, उनका मकसद क्या था? इन तमाम बिंदुओं पर टीम जांच करने पहुंची है। वहीं, आज शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में पीएम सुरक्षा मसले को लेकर सुनवाई जारी है। इस दौरान वकील मनिंदर सिंह ने कहा, पीएम सुरक्षा का मुद्दा राष्ट्रीय सुरक्षा का मुद्दा है और संसदीय दायरे में आता है।

घटना की पेशेवर रूप से जांच की जानी चाहिए। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि ये सीमा पार आतंकवाद का मामला है इसलिए एनआईए (NIA) अधिकारी जांच में सहायता कर सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार जनरल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पंजाब यात्रा के दौरान उनके यात्रा के रिकॉर्ड को सुरक्षित और संरक्षित करने का निर्देश दिया है। पंजाब के मुख्य सचिव अनिरुद्ध तिवारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पंजाब दौरे के दौरान उनकी सुरक्षा को लेकर हुई चूक की घटना के संबंध में केन्द्र सरकार को एक रिपोर्ट सौंपी है।

इस रिपोर्ट में बताया गया है कि घटना के सिलसिले में प्राथमिकी दर्ज की गई है और राज्य सरकार ने खामियों की जांच के लिए दो सदस्यीय समिति का गठन किया है। गौरतलब है कि, गुरुवार को वरिष्ठ वकील मनिंदर सिंह ने चीफ जस्टिस के सामने मामला रखते हुए कोर्ट से घटना पर रिपोर्ट लेने की मांग की थी। उन्होंने कहा था कि भविष्य में ऐसी घटनाओं की रोकथाम सुनिश्चित किए जाने की जरूरत है। कोर्ट ने उनसे याचिका की कॉपी पंजाब सरकार को सौंपने को कहा था।