सीएम शिवराज का कांग्रेस पर गंभीर आरोप…

पीएम की सुरक्षा में चूक खूनी साजिश, कांग्रेस से जुड़े तार : CM

 

भोपाल। पंजाब दौरे के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सुरक्षा में लापरवाही को लेकर हुए स्टिंग ऑपरेशन के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला है। शिवराज सिंह चौहान ने आरोप लगाया है कि पीएम मोदी के खिलाफ खूनी साजिश रची गई थी, जो पूरी तरह से प्रायोजित थी और इस साजिश के तार कांग्रेस आलाकमान तक जुड़े हुए हैं। सीएम ने कहा कि मोदी जी से नफरत ने कांग्रेस की आत्मा को भी मार दिया है। जनता की नजर में तो कांग्रेस पहले ही गिर गई थी, कांग्रेस का चरित्र भी अब गिर गया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि स्टिंग ऑपरेशन में स्थानीय एसएचओ और सीआईडी बता रहे हैं कि प्रधानमंत्री पर होने वाली रुकावट की पहले से जानकारी थी। सीआईडी ने यह जानकारी अधिकारियों को दी थी, जिसे पूरी तरह से नजर अंदाज कर दिया गया। यह खुलासा इशारा करता था है कि यह लापरवाही नहीं, बल्कि पीएम मोदी के खिलाफ मिलीभगत कर साजिश रची गई थी। सीएम ने कहा कि घटना के बाद कांग्रेस के नेता अपने बयानों से प्रसन्नता जता रहे थे। कांग्रेस नेताओं ने यहां तक कहा कि बम तो नहीं फूटा।

मध्यप्रदेश कांग्रेस का ट्वीट था कि पंजाब ने दिल जीत लिया। सीएम ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से सवाल किया है कि उन्हें बताना चाहिए कि प्रधानमंत्री के साथ 5 जनवरी को जो घटना हुई उसमें सीएम, चीफ सेकेटरी और डीजीपी क्यों नहीं थे। चीफ सेक्रेटरी और डीजीपी की गाड़ी खाली चली इससे सवाल उठता है कि उन्हें पहले से इसकी जानकारी थी पुलिस की मौजूदगी के बावजूद इतने सारे प्रदर्शनकारी इकट्ठा कैसे हो गए। वो कौन से अधिकारी हैं, जिन्होंने अलर्ट जारी होने के बाद जरूरी कदम नहीं उठाए।

सोनिया गांधी को यह भी बताना होगा कि ऐसे समय पंजाब के सीएम ने फोन रिसीव क्यों नहीं किया। सीएम शिवराज सिंह ने आरोप लगाया कि इससे साफ है कि साजिश के ताज कांग्रेस के आलाकमान तक जुड़े हैं। पीएम की सुरक्षा के संबंध में गलत जानकारी देना राष्ट्र द्रोह हैं। पंजाब सरकार ने गड़बड़ी के मामले में जो धाराएं लगाई, उसमें सिर्फ 200 रुपए के जुर्माने का प्रावधान है। क्या पीएम की सुरक्षा में लापरवाही करने वाली देशद्रोही हरकत की सजा सिर्फ 200 रुपए का जुर्माना है।