शिकायतों के बाद उठाया बड़ा कदम…

परीक्षा में धांधली के बाद एक्शन में रेल्वे, हर जोन में स्थापित किया सहायता केंद्र

 

जबलपुर। आरआरबी यानी रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड द्वारा हाल ही में जारी की गई एनटीपीसी रिजल्ट में धांधली की शिकायतों के बाद बड़ा कदम उठाया है. दरअसल, देशभर के सभी जोनों में रेलवे द्वारा अभ्यार्थियों के लिए सहायता केंद्र की शुरुआत की गई है जिसके माध्यम से वे 16 फरवरी तक अपनी शिकायतें संबंधित अधिकारियों के समक्ष पेश कर सकते हैं. आरआरबी ने साल 2019 में एनटीपीसी non-technical पॉपुलर कैटेगरी की 35,000 ज्यादा भर्तियां निकाली थी इनमें 24281 पद ग्रेजुएट और 11,000 पर अंडर ग्रेजुएट याने 12वीं पास के लिए रखे गए थे. इन पोस्ट को 5 लेवल 2, 3, 4, 5 और 6 में बांटा गया था. अलग-अलग लेबल में योग्यता के आधार पर मिलने वाला वेतनमान तय किया गया था.

हाल ही में जारी किए गए परीक्षा परिणामों के बाद कुछ तकनीकी बिंदुओं पर परीक्षार्थियों ने विरोध प्रदर्शन किया था. विरोध करते हुए बिहार में जमकर हंगामा देखने को मिला था. इतना ही नहीं परीक्षार्थियों कुछ ट्रेनों में आग भी लगाई थी. बता दें कि, मार्च 2020 में परीक्षा आयोजित होनी थी लेकिन कोविड19 के चलते दिसंबर 2020 से 20 जुलाई 2021 तक की परीक्षाएं आयोजित हुई. जिसका परिणाम 14 जनवरी 2022 को घोषित किया गया. 35000 पदों पर करीब 20 गुना से ज्यादा यानी कि लगभग 705000 छात्रों ने यह परीक्षा पास की. अब परीक्षा देने वाले उम्मीदवारों का आरोप है कि, ज्यादा क्वालिफिकेशन वाले लोग भी लेबल टू के एग्जाम में बैठ रहे हैं जबकि इनमें अंडरग्रैजुएट अभ्यर्थियों को परीक्षा देने की बात कही गई थी. ऐसे ही अभ्यर्थियों का गुस्सा इस कदर भड़का कि कई राज्यो में आगजनी और पत्थरबाजी की घटनाएं ट्रेनों में देखी गई.

परीक्षार्थियों के विरोध के बाद रेलवे ने अब परीक्षाओं को स्थगित किया है. जिसमें cbt-2 और ग्रुप डी cbt-1 की परीक्षा शामिल हैं. इसके साथ ही, रेलवे ने अब एक हाई लेवल कमेटी का गठन भी किया है जो ना केवल रिजल्ट पर पुनर्विचार करेगी बल्कि 4 मार्च तक अपनी रिपोर्ट भी पेश करेगी. बता दें कि, मध्यप्रदेश में भी लाखों उम्मीदवारों ने इस परीक्षा के लिए के लिए आवेदन किया था. पश्चिम मध्य रेलवे द्वारा इसके लिए तीन डिवीजन जिसमें भोपाल-जबलपुर और कोटा मंडलो में सहायता केंद्र स्थापित किए गए हैं जिनमें ऐसे सभी अभ्यर्थी जो इस परीक्षा में शामिल हुए हैं या इन परीक्षाओं को पास कर आगामी परीक्षाओ में शामिल होने वाले हैं, अपनी समस्या का समाधान यहां करवा सकते हैं।