मंदसौर जिले में दर्दनाक हादसा…

नदी पार करने के प्रयास में तीन महिलाएं डूबी, मौत

 

मंदसौर। रविवार दोपहर में मंदसौर जिले में चंदवासा चौकी क्षेत्र के ग्राम तोलाखेड़ी में चंबल नदी का बेकवाटर पार कर दर्शन करने जा रही तीन महिलाओं की नदी में डूबने से मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने रेस्क्यू कर कुछ ही देर में तीनों महिलाओं के शव बाहर निकाल लिए मृतिकाओ में दो सगी बहनें और एक बहू शामिल है। एक साथ तीन महिलाओं की मौत के बाद तोलाखेड़ी गांव में मातम पसर गया। मिली जानकारी के अनुसार तोलाखेड़ी से तीनों महिलाएं नदी पार कर ग्राम बर्डिया ऊंचा में स्थित मंदिर में दर्शन करने जा रही थी। दोनों बहनों का मायका भी बर्डिया ऊंचा गांव में ही है।

ग्राम तोलाखेड़ी निवासी सगी बहनें 55 वर्षीय मोहनबाई पत्नी गोपाल धनगर और 53 वर्षीय रामीबाई पत्नी रमेश धनगर बहू 32 वर्षीय कारीबाई पत्नी गोवर्धन धनगर के साथ चंबल नदी के जलभराव क्षेत्र को पार कर बर्डियां ऊंचा जा रही थी। तभी अचानक गड्ढा आने से तीनों गहरे पानी में चली गई और उनकी मौत हो गई है। आसपास मौजूद लोगों को जैसे ही महिलाओं के डूबने की जानकारी मिली तो चंदवासा चौकी पर सूचना दी गई। मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मियों और ग्रामीणों के छानबीन करने के कुछ देर बाद ही तीनों महिलाओं के शव नदी से बरामद हुए। पुलिस ने शवो का पंचनामा बनाकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है।

कुछ ग्रामीणों ने डूबती हुई महिलाओं को देखकर उनको बचाने भी दौड़े पर प्रयास सफल नहीं हो पाए महिलाओं को ढूंढने के दौरान तीनों के शव ही मिले। एक ही गांव के एक ही परिवार की तीन महिलाओं की मौत होने पर गांव में मातम पसर गया है। ग्राम तोलाखेड़ी में पानी में डूबने से तीन महिलाओं की मौत पर कैबिनेट मंत्री हरदीपसिंह डंग ने तत्काल इस मामले में कलेक्टर गौतमसिंह से चर्चा कर प्रभावित परिवार को हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने को कहा है। मंत्री के निर्देश पर प्रशासन द्वारा कार्रवाई करते हुए मृतकों के स्वजन को चार-चार लाख रुपये की सहायता स्वीकृत की गई है। मंत्री डंग ने कहा कि हादसा दुखद है।