स्वच्छता के प्रति आमजन में हो ललक...

नागरिकों की भागीदारी स्वच्छता के लिये जरूरी

ग्वालियर दिनांक 05 दिसम्बर - ‘नागरिकों की भागीदारी स्वच्छता के लिये जरूरी’ जीवाजी यूनिवर्सिटी के अटल सभागार आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में  ग्वालियर संासद श्री विवेक नारायण शेजवलकर ने सभागार में उपस्थित शहर के नागरिकों में उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि हम सबने ठाना है ग्वालियर को स्वच्छता में नम्बर एक स्थान पर लाना है। उन्होंने कहा कि स्वच्छता हमारे अंदर है बस उसे समाज में लेकर जाना है। जिस प्रकार हम अपने घर को साफ व स्वच्छ रखते हैंं उसी प्रकार हमें अपने कॉलोनी व शहर को स्वच्छ रखना है। 

इस अवसर पर नगर निगम प्रशासक व संभागीय आयुक्त श्री आशष सक्सैना व ग्वालियर कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पूर्व निगमायुक्त श्री विनोद शर्मा के साथ ही जनप्रतिनिधिगण, प्रबुद्धजन, वार्ड क्राइसिस मैनेजमेंट समिति के पदाधिकारी एवं सदस्य, जिला प्रशासन, नगर निगम, आमजन, सामाजिक संस्थायें उपस्थित रहे। 

सांसद श्री शेजवलकर ने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान देश का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है देश के नागरिकों को चाहे गांव के हों या शहरों के, उन्हें सफाई के प्रति, उनके सामाजिक दायित्वों के प्रति जागरूक करना होगा। क्योंकि जब तक वे जागरूक नहीं होंगे हमारे निगम के कर्मचारी भले ही सड़कों पर झाड़ू लगाकर और कूड़ा उठाकर उसे साफ करते रहें, लेकिन हम नागरिकों के रूप में यहाँ-वहाँ कचरा डालकर उन्हें गंदा करते ही रहेंगे। यह अभियान उस दिन अपने आप सफल हो जाएगा जिस दिन इस देश का हर नागरिक चॉकलेट या चिप्स खाकर कचरा फेंकने के लिए डस्टबिन ढूँढेगा, भले ही उसे आधा किमी चलना ही क्यों न पड़े और यह सब किसी जुर्माने के डर से नहीं, बल्कि देश को स्वच्छ रखने में अपना योगदान देने के लिए। स्वच्छता के प्रति आमजन में हो ललक दिखनी चाहिए।  

ग्वालियर दक्षिण विधानसभा के विधायक श्री प्रवीण पाठक ने इस अवसर पर कहा कि नगर निगम ने स्वच्छता के लिए जो पहल की है वह सराहनीय है। समाज के सभी वर्ग समनव्य के साथ स्वच्छता का कार्य करें, तो हम स्वच्छता में अव्वल आ सकते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि स्वच्छता की जिम्मेदारी हम सबकी है इसलिए दक्षिण विधानसभा को शहर में सबसे साफ व स्वच्छ बनाने के लिए विधानसभा के प्रत्येक वार्ड में सात दिवस का स्वच्छता अभियान चलाउंगा।  

ग्वालियर पूर्व विधायक श्री सतीश सिकरवार ने इस अवसर पर सभी को स्वच्छता की शपत दिलाई। साथ ही कहा कि हम अपने अधिकारों के साथ अपने कर्तव्यों को भी समझें तो हम अपने ग्वालियर को स्वच्छता में अव्वल ला सकते हैं। शहर का प्रत्येक नागरिक शहर को अपना घर समझे तभी हमारा शहर स्वच्छ हो सकता है। 

नगर निगम आयुक्त श्री किशोर कन्याल ने निगम द्वारा स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 की तैयारियों को लेकर स्वच्छता के क्षेत्र में किये जा रहे कार्यों को प्रजेंटेशन के माध्यम से सभी को अवगत कराया कि उन्होंने स्वच्छता के लिए क्या-क्या तैयारियां की हैं, नगर निगम क्या करने जा रहा है, नगर निगम आपसे क्या अपेक्षा रखता है तथा अच्छी रैक आने पर क्या फायदा होगा आदि बिंदुओ पर प्रजेंटेशन दिया। 

उन्होंने बताया कि केदारपुर लैंडफिल साइड को चालू कर लिया गया है तथा शहर में 7 कचरा ट्रांसफर स्टेशन में से 5 चालू हो चुके हैं एवं दो को एक सप्ताह में चालू कर लिया जाएगा। डोर टू डोर कचरा संग्रहण 100 प्रतिशत किया जा रहा है। इसके साथ ही स्वच्छता के लिए जरूरी नये वाहन खरीदें हैं, जिसमें 5 वाटर कैनन मशीन में से 3 आ चुकी हैं। डेरियों से गोबर संग्रहण किया जा रहा है। 

निगम आयुक्त श्री कन्याल ने बताया कि आमजन को जागरूक करने के लिए शहर में हर घर स्वच्छता के स्टीकर लगाये जा रहे हैं। साथ ही स्वच्छता की शिकायत के लिए  टोल फ्री नम्बर जारी किया गया है। इसके साथ ही सोशल मीडिया के माध्यम से शहर के नागरिकों को जोडा जा रहा है। जहां वे अपनी समस्या आसानी से बता सकते हैं। इसके साथ ही आने वाले समय में सभी अधिकारियों को वायरलेस सेट उपलब्ध कराया जाएगा जिससे कार्य में तेजी आए। 

नागरिकों की भागीदारी स्वच्छता के लिये जरूरी कार्यक्रम में आये प्रबुद्धजनों एवं आमजनो ने अपने अपने सुझाव दिये जिस पर निगमायुक्त श्री कन्याल ने कहा कि सभी के सुझाव लिये जाकर उन पर अमल भी किया जाएगा।