सिंधिया समर्थकों का दिखा दबदबा…

शिवराज सरकार ने दी निगम मंडल में नियुक्ति को हरी झंडी



भोपाल। लंबे इंतजार के बाद आखिरकार मध्य प्रदेश निगम मंडल में नियुक्तियों को हरी झड़ी दिखा दी गई है। इन नियुक्तियों में सिंधिया समर्थकों का दबदबा देखने को मिला है। निगम मंडल की नियुक्ति में कई प्रमुख चेहरे को जगह मिली है, जिन्हें बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई है। ऐंदल सिंह कंसाना को मध्य प्रदेश एग्रो का चेयरमैन नियुक्त किया गया है। विनोद गोटिया की नियुक्ति पर्यटन निगम के अध्यक्ष के तौर पर हुई है। इमरती देवी को लघु उद्योग निगम का जिम्मा सौंपा गया है। गिर्राज दंडोतिया को सरकार ने ऊर्जा विकास निगम का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। रघुराज कंसाना पिछड़ा वर्ग आयोग वित्त निगम के अध्यक्ष बने हैं।

मंजू दादू को मंडी बोर्ड का उपाध्यक्ष बनाया गया है। वहीं रणवीर जाटव को संत रविदास हस्तशिल्प और हथकरघा विकास निगम का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। मुन्नालाल गोयल को मध्यप्रदेश राज्य बीज एवं फार्म विकास निगम का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। मध्य प्रदेश पाठ्य पुस्तक निगम के उपाध्यक्ष पद की जिम्मेदारी प्रहलाद भारती को दी गई है। राज्य पशुधन एवं कुक्कुट विकास निगम का जसवंत जाटव का अध्यक्ष बनाया गया है। मध्यप्रदेश खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष पद का जिम्मा जीतेंद्र लटोरिया को दिया गया है।


मध्य प्रदेश कौशल विकास एवं रोजगार निर्माण बोर्ड का उपाध्यक्ष नरेंद्र बिरथरे को नियुक्त किया गया है। साथ ही मध्य प्रदेश राज्य बीज एवं फार्म विकास निगम के उपाध्यक्ष पद पर राजकुमार कुशवाहा को बैठाया गया है। निगम मंडलों में उन चेहरों को तवज्जो दी गई है जो सिंधिया समर्थक हैं और जो उपचुनाव हार गए थे। इसमें वो नेता भी हैं जिन्होंने सिंधिया के साथ कांग्रेस को छोड़ा था और इनमें से ज्यादातर कमलनाथ सरकार में मंत्री रह चुके हैं। बता दें कि सिंधिया समर्थक सभी पराजित नेताओं को मंत्री पद का दर्जा दिलाए जाने की कवायद लंबे समय से चल रही थी।