निगमायुक्त के आदेशानुसार शहर में स्वच्छता अभियान चलाया…

गंदगी फ़ैलाने व दो डस्टबिन न रखने पर वसूला 18000 से अधिक का जुर्माना

ग्वालियर। निगमायुक्त किशोर कन्याल के आदेशानुसार स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 की तैयारियों को दृष्टिगत रखते हुए। शहर में स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है। जिसके तहत आमजन को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जा रहा है। साथ ही शहर में दुकानदारों व आमजन से अपील की जा रही है। कि वह अपने पास डस्टबिन अवशय रखें जिससे गंदगी न फैल पाये तथा सूखा व गीला कचरा वाहन में अलग-अलग डालें। अपर आयुक्त अतेन्द्र सिंह गुर्जर के निर्देशानुसार आमजन से सार्वजनिक स्थानों पर शौच, स्थलों, मार्गों, सडक किनारे, नालियां में कचरा या गंदगी न फेलाना, सार्वजनिक स्थानों पर थूकना, पेशाव करना, किसी भी प्रकार का कचरा जलाना, रासायनिक उपशिष्ट डालना, हानिकारक द्रव्य वहाना, तालाब एवं अन्य जल संरचनाओं पर कचरा न डालना आदि इन सभी के लिए आमजन को जागरूक किया जा रहा कि यह शहर हम सभी का इसको स्वच्छ व साफ रखने की जिम्मेदारी भी हम सभी की है। 

सार्वजनिक जगहों पर कचरा न डालें, कचरा सिर्फ कचरा वाहन में डालें। साथ ही गंदगी फैलाने पर जुर्माने की कार्यवाही की जा  रही है। स्वच्छता जागरुकता कार्यक्रमों के दौरान वार्ड मॉनीटरों द्वारा गंदगी फैलाने, सूखा गीला कचरे के लिए अलग अलग डस्टबिन न रखने, खुले में थूकने आदि से 18600 रूपये से अधिक का वूसला जर्माना। 

जिसमें वार्ड 7 के वार्ड मॉनिटर राजेश परिहार द्वारा चार शहर का नाका में 5000 रुपए, वार्ड 32 में राज कुमार कुशवाह द्वारा लक्ष्मीबाई कालोनी में 2500 रुपए, वार्ड 24 राकेश कश्यप द्वारा थाटीपुर में 2500 रुपए, वीरेन्द्र शाक्य वार्ड मॉनिटर वार्ड 66  द्वारा सिकरोदा में 1600 रुपए, संदीप स्तव वार्ड मॉनिटर वार्ड 63 द्वारा गंगामालनपुर में 1500 रुपए, मनीष यादव  वार्ड मॉनिटर वार्ड 47 द्वारा  लक्कड़खान में 1500 रुपए, महेश कुशवाह वार्ड मॉनिटर वार्ड  द्वारा 1500 रुपए, ए.पी.एस. जादौन वार्ड मॉनिटर वार्ड 15 द्वारा नहर पटर में 1500 रुपए, अमानक पॉलिथीन उपयोग करने पर  पिंटो पार्क में 1000 रुपए का जुर्माना वसूला गया। साथ ही अन्य वार्डों में भी जुर्माने की कार्यवाही की गई।