वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से…

यूनेस्को के समक्ष निगमायुक्त ने दिया ग्वालियर हिस्टोरिक अर्बन लैंडस्केप का प्रजेन्टेशन

ग्वालियर। ग्वालियर नगर निगम के आयुक्त किशोर कन्याल ने भारत सरकार द्वारा यूनेस्कों को भेजे गए ग्वालियर हिस्टोरिक अर्बन लैंडस्केप का प्रजेन्टेशन आज बुधवार को यूनेस्को के अधिकारियों के समक्ष वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से दिया। इस अवसर पर वीडियो कांफ्रेसिंग में मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड के प्रिंसिपल सेकेट्री एस.एस. शुक्ला, संभागीय आयुक्त आशीष सक्सैना, मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड की एडीशनल मैनेजिंग डायरेक्टर शिल्पा गुप्ता, कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, सीईओ र्स्माट सिटी जयति सिंह,  आईआईटीटीएम के डायरेक्टर डॉ. आलोक शर्मा, यूनेस्को नई दिल्ली से जून्ही हेन, नेहा दीवान, धरताल टीम के यश गुप्ता (यूनेस्को के तकनीकी सलाहकार) एवं यूनेस्को के स्थानीय सलाहकार शिशिर श्रीवास्तव उपस्थित रहे। 

नोडल अधिकारी एवं यूनेस्को के स्थानीय सलाहकार शिशिर श्रीवास्तव ने बताया कि ग्वालियर क्रियेटिव सिटी का प्रजेन्टेशन प्रस्तुत करते हुए निगमायुक्त किशोर कन्याल ने नगर निगम ग्वालियर एवं स्मार्ट सिटी ग्वालियर द्वारा किए जा रहे विभिन्न रचनात्मक कार्यों की जानकारी प्रजेन्टेशन के माध्यम से दी। इसके साथ ही  निगमायुक्त श्री कन्याल ने डेटा को लेकर विस्तृत जानकारी यूनेस्कों के अधिकारियों को दी।

सीईओ र्स्माट सिटी जयति सिंह द्वारा प्रजेन्टेशन के माध्यम से शहर के आंकड़ों के बारे में जानकारी दी गई जो ग्वालियर शहर के अधिकारियों ने एचयूएल परियोजना के सुचारू कामकाज के लिए प्रदान किए हैं। श्रीमती सिंह द्वारा शहर में चल रहे हेरिटेज संधारण व पुनरुपयोग के कार्यों के बारे में भी विस्तृत रूप से जानकारी साझा की गई। ग्वालियर द्वारा दिए गए प्रजेन्टेशन को लेकर मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड के प्रिंसिपल सेकेट्री एस.एस. शुक्ला ने ग्वालियर की प्रशंसा की तथा अधिकारियों का उत्साहवर्धन किया।