एसपीजी अफसर ने जताई नाराजगी, पीएमओ को भेजी रिपोर्ट…

PM मोदी की सभा से पहले कार्यक्रम स्थल पर 2 हादसे

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भोपाल दौरे से पहले जम्बूरी मैदान में शुक्रवार को हुए 2 हादसों ने कार्यक्रम की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं। बता दें कि भोपाल में 15 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए भोपाल पहुंच रहे हैं। जिसकी तैयारियों को देखने के लिए शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे थे। इस दौरान बीजेपी के जिला अध्यक्ष सुमित पचौरी भी मौजूद थे। सुमित पचौरी जैसे ही मंच से नीचे उतर रहे थे तभी अचानक सीढी के साइड से वे सीधे नीचे गिर गए।

इसके बाद मौके पर मौजूद हुजूर विधायक रामेश्वर शर्मा, मंत्री विश्वास सारंग सुमित पचौरी को लेकर एक निजी हॉस्पिटल पहुंचे जहां डॉक्टर ने उनका उपचार किया और आराम करने की सलाह दी है। इसके पहले कार्यक्रम का डोम तैयार करने वाले ठेकेदार व टेंट कारोबारी कंजे मियां भी मुख्यसचिव के सामने चक्कर खाकर गिर पड़े थे । घटना को देखकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सुरक्षा में तैनात एसपीजी के अधिकारी ने भी नाराजगी जाहिर की और जिला  प्रशासन की कार्यप्रणाली पर  असंतोष प्रकट किया। इतना ही नहीं सूत्रों के मुताबिक एसपीजी के अफसर ने हादसों की पूरी जानकारी पीएमओ दफ्तर भेज दी है। दरअसल पीएम मोदी के लिए जो मंच तैयार किया गया है उसकी सीढ़ी दोनों तरफ से खुली हुई हैं। 

सीढ़ी के साइड में पकड़ने के लिए कोई भी ग्रिल या सपोर्ट नहीं है। जिसकी वजह से यह हादसा हुआ है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भोपाल दौरे के दौरान उनकी सुरक्षा में 5 हजार से अधिक जवान तैनात रहेंगे। इनके अलावा प्रधानमंत्री की सुरक्षा का जिम्मा संभालने वाली एसपीजी की टीम भी भोपाल पहुंच चुकी है। एसपीजी की टीम ने भी कार्यक्रम स्थल पर मोर्चा संभाल लिया है। बता दें कि पीएम मोदी की सुरक्षा के लिए भोपाल में  जगह-जगह तलाशी लेने का काम भी शुरू हो गया है। बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, धर्मिक स्थानों, होटलों और मकानों से जानकारी जुटाई जा रही है। राजधानी में पीएम की सुरक्षा इंतजामात के लिए बाहर से पुलिस कर्मियों का आना भी शुरू हो गया है।