इस विज्ञापन से समाज में एक वर्ग को पीड़ा पहुंची…

गृहमंत्री की चेतावनी के बाद सब्यसाची ने हटाया मंगलसूत्र का विज्ञापन

भोपाल/दतिया। मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा की चेतावनी के बाद डिजाइनर सब्यसाची मुखर्जी ने मंगलसूत्र का विज्ञापन हटा दिया है उन्होंने कहा कि इस विज्ञापन से समाज में एक वर्ग को पीड़ा पहुंची है, जिसका मुझे गहरा दुख है रविवार के दिन गृहमंत्री मिश्रा ने सब्साची को 24 घंटे के अंदर मंगलसूत्र का विज्ञापन हटाने का अल्टीमेटम दिया था, उन्होंने कहा था कि अगर डिजाइनर इसे नहीं हटाते तो उनके खिलाफ केस दर्ज कर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी। 

मंगलसूत्र का विज्ञापन बेहद आपत्तिजनक और मन को आहत करने वाला है। आभूषणों में सर्वाधिक महत्व का आभूषण मंगलसूत्र होता है। हम मानते हैं कि मंगलसूत्र का पीला हिस्सा मां पार्वती का प्रतीक होता है और काला हिस्सा भगवान शिव जी की कृपा से महिला और उसके पति की रक्षा होती है। मां पार्वती जी की कृपा से जीवन दांपत्य सुखमय होता है। गृहमंत्री मिश्रा ने रविवार सुबह कहा था कि मैं पहले भी चेतावनी दे चुका हूं, डिजाइनर सब्यसाची मुखर्जी को मैं व्यक्तिगत रूप से चेतावनी दे रहा हूं और 24 घंटे का अल्टीमेटम भी दे रहा हूं। 24 घंटे के अंदर यह विज्ञापन जो आपत्तिजनक और अश्लील है, नहीं हटाया तो केस रजिस्टर्ड होगा और वैधानिक कार्रवाई की जाएगी और अलग से फोर्स भेजी जाएगी। 

सब्यसाची मुखर्जी के विज्ञापन का इंटरनेट मीडिया पर महिलाओं द्वारा विरोध किया जा रहा। अनेक सामाजिक संगठनो ने इस विज्ञापन को हटाने और फैशन डिजाइनर माफी मांगने की बात कही है। गौरतलब है कि इसके पहले गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने डाबर को करवा चौथ का विज्ञापन हटाने की चेतावनी दी थी और कहा था कि अगर विज्ञापन नहीं हटा तो वैधानिक कार्रवाई की जाएगी। जिसके बाद डाबर कंपनी ने अपना विज्ञापन इंटरनेट से हटा लिया था।