टीकाकरण दलों एवं क्राइसेस मैनेजमेंट समितियों की संयुक्त बैठकें…

टीकाकरण महाअभियान के तहत लक्ष्य अनुरूप हो टीकाकरण का कार्य : कलेक्टर

ग्वालियर। कोविड टीकाकरण महाअभियान के तहत ग्वालियर जिले में 17 नवम्बर को 50 हजार पात्र नागरिकों को बचाव के टीके लगाने का लक्ष्य रखकर कार्य किया जाएगा। जिले का शासकीय अमला और क्राइसेस मैनेजमेंट समिति के सहयोग से लक्ष्य अनुरूप टीकाकरण का कार्य किया जाना है। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने मंगलवार को टीकाकरण महाअभियान को सफल बनाने के लिये ब्लॉक स्तरीय क्राइसेस मैनेजमेंट कमेटी और टीकाकरण दल के साथ चीनौर, डबरा और भितरवार में पहुंचकर बैठक ली और टीकाकरण अभियान को सफल बनाने के संबंध में चर्चा की। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कहा है कि शतप्रतिशत पात्र लोगों को कोविड-19 के दोनों टीके लगाना हम सबका लक्ष्य है। 

निरंतर टीकाकरण अभियान के दौरान टीकाकरण के बाद भी अभी बहुत सारे लोग टीकाकरण से वंचित हैं। अधिक से अधिक टीकाकरण के उद्देश्य से ही ग्वालियर जिले में 17 नवम्बर को टीकाकरण का महाअभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने अनुविभागीय अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि वे अपने-अपने अनुभाग क्षेत्र में महाअभियान के तहत टीकाकरण की पूरी रणनीति तैयार करें और प्रात: 7 बजे से सभी निर्धारित टीकाकरण केन्द्रों पर टीकाकरण का कार्य प्रारंभ कराएं।कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने यह भी कहा है कि निर्धारित टीकाकरण केन्द्रों के साथ-साथ मोबाइल टीमों के माध्यम से भी टीकाकरण का कार्य कराया जाए। क्राइसेस मैनेजमेंट समिति के सदस्यों के साथ-साथ समाज के सभी वर्गों का सहयोग टीकाकरण कार्य में लिया जाए। 

जिले में पूर्व में चलाए गए टीकाकरण अभियान की भांति ही इस अभियान में भी निर्धारित लक्ष्य से अधिक टीकाकरण का कार्य हो, यह सुनिश्चित किया जाए। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने तीनों जगह बैठक में यह भी कहा कि टीकाकरण महाअभियान के तहत टीकाकरण कार्य में लगे सभी लोग अपने दायित्वों का निष्ठापूर्वक निर्वहन करें। उक्त कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही पाए जाने पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि  जिन केन्द्रों पर अधिक टीकाकरण या लक्ष्य अनुरूप टीकाकरण होगा वहां की टीम को सम्मानित करने का कार्य भी किया जाएगा।इसके साथ ही जिन ग्राम पंचायतों में शतप्रतिशत टीकाकरण का कार्य पूर्ण होगा वहां पर भी पहुंचकर प्रशासन, पंचायत को सम्मानित करने का कार्य करेगा। 

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत आशीष तिवारी ने भी बैठक में कहा है कि सभी पंचायतें अपने-अपने यहां टीकाकरण से शेष बचे लोगों की सूची तैयार रखें और उन सबसे संपर्क कर अभियान के दौरान टीकाकरण का कार्य करायें। टीकाकरण कार्य के लिये जो दल गठित किए गए हैं वे निर्धारित समय पर केन्द्र पर पहुंचें और जब तक कोई भी व्यक्ति टीकाकरण से वंचित है तब तक टीकाकरण का कार्य बंद न करें। उन्होंने यह भी कहा कि जिन ग्राम पंचायतों में अधिक लोग टीकाकरण से वंचित हैं वहां पर अतिरिक्त दल भी स्थापित किए जाएं। मोबाइल टीम के माध्यम से भी अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण कार्य हो। बैठक में अनुविभागीय अधिकारी डबरा प्रदीप कुमार, अनुविभागीय अधिकारी भितरवार अश्विनी रावत, जिला पंचायत के उपाध्यक्ष शांतिशरण गौतम सहित क्राइसेस मैनेजमेंट समिति के सदस्य और टीकाकरण दल के सभी सदस्य उपस्थित थे।