कलेक्टर ने अंतरविभागीय समन्वय बैठक में दिए निर्देश…

भू-माफियाओं के कब्जे से मुक्त कराएँ सरकारी जमीन : श्री सिंह

ग्वालियर। अभियान बतौर कार्रवाई कर भू-माफियाओं के कब्जे से सरकारी जमीन मुक्त कराएँ। साथ ही उनके खिलाफ पुलिस कार्रवाई भी की जाए। यह निर्देश अंतरविभागीय समन्वय बैठक में कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने जिले के सभी एसडीएम और नगर निगम के अधिकारियों को दिए। उन्होंने खनन, रेत व शराब माफियाओं के खिलाफ भी अभियान जारी रखने पर बल दिया। सोमवार को यहाँ कलेक्ट्रेट के सभागार में आयोजित हुई बैठक में कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने नगर निगम के अधिकारियों को भी हिदायत दी कि नगर निगम भी भू-माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करे। उन्होंने अगले हफ्ते भू-माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने के लिये नगर निगम व सभी एसडीएम के लिये लक्ष्य निर्धारित किया है। साथ ही निर्देश दिए कि पहले बड़े माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई की जाए। 

कलेक्टर ने कहा कि माफियाओं के कब्जे से मुक्त कराई गई जमीन को प्रधानमंत्री आवास सहित अन्य शासकीय प्रयोजन और सरकारी दफ्तरों के लिये आवंटित करने की कार्रवाई भी की जाए। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आशीष तिवारी, अपर जिला दण्डाधिकारी इच्छित गढ़पाले व एच बी शर्मा सहित जिले के सभी एसडीएम और विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे। जल जीवन मिशन के तहत गाँवों में डाली जा रहीं पेयजल लाइनों से खराब हुईं सड़कों को मूल रूप में लाने पर कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने विशेष जोर दिया। उन्होंने कहा कि यदि किसी गांव में नल-जल योजना की पाइप लाइन से खराब हुई सड़कें ठीक नहीं की गईं तो पीएचई के कार्यपालन यंत्री, सहायक यंत्री व उपयंत्री, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी और संबंधित ठेकेदार जवाबदेह होंगे। कलेक्टर ने कहा कि सड़कें खराब करने के लिये जिम्मेदार अधिकारियों व ठेकेदार के खिलाफ दण्ड प्रक्रिया संहिता के तहत कार्रवाई कर उन्हें जेल भेजने की कार्रवाई की जायेगी। 

अंतरविभागीय समन्वय बैठक में कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने अगले हफ्ते में सीएम हैल्पलाइन की शिकायतों के निराकरण के लिये लक्ष्य भी निर्धारित किए। उन्होंने जिन विभागों की 200 से अधिक शिकायतें लंबित हैं उनको अगले हफ्ते कम से कम 50 प्रतिशत, जिन विभागों की शिकायतें 150 से 200 हैं उन्हें 35 प्रतिशत और जिन विभागों की शिकायतें 150 से कम हैं उन्हें अगले हफ्ते तक कम से कम 25 प्रतिशत शिकायतों का निराकरण हर हाल में करने के निर्देश दिए हैं।  कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने सभी एसडीएम एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को कोरोना टीकाकरण में और तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इसके लिये सभी एसडीएम जनप्रतिनिधियों, समाजसेवियों, धर्मगुरूओं और क्राइसेस मैनेजमेंट समितियों की बैठक लेकर इस पुनीत कार्य में सभी का सहयोग मांगे। साथ ही कहा कि जिन लोगों को द्वितीय डोज के टीके लगाने की बारी आ गई है उन सभी से फोन से अवश्य संपर्क करें। 

निर्देश -

  • प्रधानमंत्री स्वनिधि में पिछले हफ्ते में बैंकों ने ग्वालियर शहर के 2,539 स्ट्रीट वेण्डर को 10 – 10 हजार रूपए की सहायता बांटी। इस साल अब तक 8,676 पथ विक्रेताओं को मिल चुकी है आर्थिक मदद।  
  • एक जिला – एक उत्पाद के तहत आलू यूनिट के लिये कम से कम 20 प्रकरण मंजूर कराने पर बल। इसी तरह स्टोन पार्क-2 में पत्थर व्यवसाइयों को प्रमुखता से जमीन आवंटित कराई जाए। 
  • रोजगार मेलों के जरिए जिन युवाओं को नौकरी मिली है, उनका फोलोअप करें और नए रोजगार मेले भी लगाए जाएं।