सफाई व्यवस्था के निरीक्षण के लिए फील्ड में निकले उपायुक्त…

40 अनुपस्थित कर्मचारियों के खिलाफ वेतन काटने के दिये निर्दे

 


ग्वालियर। नगर निगम आयुक्त किशोर कन्याल के निर्देश पर शहर की साफ सफाई व्यवस्था को दुरूस्त करने एवं स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 की तैयारियों को लेकर निगम अधिकारियों द्वारा प्रतिदिन सुबह अपने अपने क्षेत्र में सफाई व्यवस्था की मोनिटरिंग की जाकर संबंधित कर्मचारियों को आवशयक दिशा निर्देश दिये जा रहे हैं। इसके साथ ही आमजनों को स्वच्छता के प्रति जागरूक भी किया जा रहा है। शहर की सफाई व्यवस्था के निरीक्षण के लिए सुबह 5 बजे से ही फील्ड में निकले उपायुक्त सतपाल सिंह चौहान को गुरुवार को 19 कर्मचारी अपनी ड्यूटी से गैरहाजिर मिले। इनके खिलाफ कार्यवाही के लिए श्री चौहान ने निगमायुक्त को प्रतिवेदन भेजा। साथ ही एक दिन का वेतन काटने के आदेश तत्काल दिए हैं।

उपायुक्तसुबह जोन-3 के वार्ड 15 में निरीक्षण के लिए पहुंचे और सभी सफाई कर्मचारियों की हाजिरी चौक की, जिसमें 53 मे से 19 सफाई मित्र गैरहाजिर पाए गए। श्री चौहान ने एक कर्मचारी मनोज की रजिस्टर में साइन मिलने पर हाजिरी की तस्दीक की तब पता लगा कि वह नौकरी पर नहीं आया है, और उसकी हाजिरी भरी है। इस पर डब्ल्यूएचओ को फटकार लगाते हुए कर्मचारी के खिलाफ मोके पर ही पंचनामा बनाकर जानकरी निगमायुक्त को भेजी गई है। इसके साथ ही रेलवे स्टेशन बजरिया में सफाई कार्य का निरीक्षण किया। इसके साथ ही उपायुक्त अतिबल सिंह यादव ने वार्ड 61,62,60,26,27 में सफाई व्यवस्था का निरीक्षण कर सफाई मित्रों की उपस्थिति चैक की।

जिसमें वार्ड 60 के संजय पुत्र घनश्याम, सोनू पुत्र शिवचरन, कृष्णा पुत्र गोपाल, अमित पुत्र अशोक, सुनील पुत्र गणेश, मुन्नी पत्नि राकेश, मुकेश पुत्र भगवत, अनूप पुत्र रमेश, सुखदेव पुत्र कल्लू, राजा पुत्र अशोक, अरूण पुत्र मुन्ना, इंदर पुत्र बाबूलाल, वार्ड 26 में रंजीता पुत्र किशोर, वार्ड 27 में जीतू पुत्र त्रिलोकी, गोपाल पुत्र जगदीश, करन पुत्र गोविंद, संजय पुत्र श्याम, वार्ड 61 में राहुल पुत्र कम्मोद, किशन पुत्र विद्ययाराम, सन्नी पुत्र कमल एवं वार्ड 62 में नेतराम पुत्र आशाराम सहित कुल 21 सफाई मित्र अनुपस्थित मिले। जिस पर सभी का एक दिवस का वेतन काटने के निर्देश उपायुक्त श्री यादव ने दिए।