भारत ने 2007 में जीता था पहला टी-20 वर्ल्ड कप…

भारत और पाकिस्तान के बीच महामुकाबला आज

भारतीय टीम आज पाकिस्तान के खिलाफ एक हाईप्रोफाइल मुकाबले से वर्ल्ड कप में अपना अभियान शुरू करेगी। शाम 7:30 बजे से दुबई के दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में भारत और पाकिस्तान के बीच हाई प्रोफाइल मैच खेला जायेगा, दोनों ही टीमें ग्रुप बी में है। भारत आज तक वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में पाकिस्तान से कभी नही हारा है, आज के मैच में भारत पर यह रिकार्ड बचाने का भी दबाव होगा। भारत की तरफ से खेल रही टीम के संयोजन पर बात करें तो कागज पर भारतीय टीम बेहद संतुलित दिख रही है, टीम में पांच बल्लेबाज, एक विकेटकीपर, तीन ऑलराउंडर, तीन स्पिनर और तीन तेज गेंदबाज मौजूद हैं। महामुकाबला से पहले विराट कोहली ने कहा है, हम अपनी जीत को लेकर पूरी तरह पॉजिटिव हैं। महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारत ने 2007 का पहला टी-20 वर्ल्ड कप जीता था, लेकिन इसके बाद भारतीय टीम को ख़िताबी जीत का इंतजार है। वर्ल्ड कप के मुकाबले शुरू होने से पहले ही भारतीय कप्तान विराट कोहली ने स्पष्ट कहा है कि रोहित शर्मा और केएल राहुल भारत के लिए पारी की शुरुआत करेंगे।

 हालांकि टीम के पास ईशान किशन के रूप में विकल्प मौजूद होगा, किशन को इंग्लैंड के खिलाफ अभ्यास मैच में मौका भी मिला था। भारतीय कप्तान विराट कोहली को टी-20 क्रिकेट का रन मशीन माना जाता है। 2014 और 2016 के वर्ल्ड टी-20 में मैन ऑफ द सिरीज का खिताब विराट कोहली को ही मिला था। टी-20 क्रिकेट में विराट कोहली लंबे समय तक दुनिया के शीर्ष बल्लेबाज रहे हैं, हालांकि इन दिनों विश्व रैंकिंग में वे चौथे पायदान पर हैं। टी-20 क्रिकेट लीग IPL में भी सर्वाधिक रन उनके बल्ले से निकले हैं। लेकिन इस बार उनकी कप्तानी सवालों के घेरे में है। कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम एक बार भी ICC टूर्नामेंट नहीं जीत सकी है। उन्होंने टूर्नामेंट के पहले ही घोषणा की है कि वे इसके बाद टी-20 टीम की कप्तानी छोड़ देंगे। 

ऐसे में उनकी कोशिश कप्तान के तौर पर कम से कम एक आईसीसी ट्रॉफ़ी हासिल करने की जरूर होगी। टीम के मेंटॉर महेंद्र सिंह धोनी टीम इंडिया के पूर्व कप्तान, कैप्टन कूल और बेहतरीन फिनिशर महेंद्र सिंह धोनी भारतीय टीम के साथ पहली बार नयी भूमिका में दिखेंगे। वे भारतीय क्रिकेट टीम के मेंटॉर बनाए गए हैं, इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहने के बाद धोनी पहली बार ऐसी किसी भूमिका में दिखेंगे। धोनी भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे कामयाब कप्तान हैं और एक बेहतरीन बल्लेबाज भी। उनकी उपलब्धियों को देखते हुए ही भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने उन्हें विशेष भूमिका में टीम के साथ जोड़ा है। ICC की तीनों बड़ी ट्रॉफी भारत को दिला चुके महेंद्र सिंह धोनी के अनुभव का लाभ विराट कोहली लेना चाहेंगे। वर्ल्ड टी-20 के दौरान रवि शास्त्री भारतीय क्रिकेट टीम के साथ बतौर चीफ कोच आखिरी बार नजर आएंगे, ऐसे में भारतीय टीम उनको खिताबी जीत के साथ यादगार विदाई देना चाहेगी। 

मुख्य कोच रवि शास्त्री के सहयोगी स्टॉफ में बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर, गेंदबाजी कोच भरत अरूण और फील्डिंग कोच आर। श्रीधर शामिल हैं। इनमें भी बदलाव संभव है। टी-20 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया में विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उपकप्तान), केएल राहुल, सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), ईशान किशन, हार्दिक पंड्या, रविंद्र जडेजा, राहुल चाहर, रविचंद्रन अश्विन, शार्दुल ठाकुर, वरुण चक्रवर्ती, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी , रिजर्व प्लेयर: श्रेयर अय्यर, दीपक चाहर, अक्षर पटेल हां वहीं भारत के खिलाफ खेले जाने वाले मैच के लिए पाकिस्तान की टीम में बाबर आजम (कप्तान), मोहम्मद रिजवान, फखर जमान, मोहम्मद हफीज़, शोएब मलिक, आसिफ अली, इमाद वसीम, शादाब खान, शाहीन आफरीदी, हसन अली, हरीस रऊफ, हैदर अली हैं।