ज्ञान दिवस के कार्यक्रम में निगमायुक्त ने ली छात्र-छात्राओं की क्लास…

कंफर्ट जोन से बाहर निकलेंगे, तभी कलाम साहब की ऊंचाइयों को छू सकेंगे : कान्याल

ग्वालियर। पूर्व राष्ट्रपति और मिसाइल मैन के 3 सिद्धांतों को अगर अपना लिया जाए तो आपका जीवन सफल हो सकता है। वो तीन सूत्र हैं खुद को कंफर्ट जोन से बाहर निकालो ,किसी भी काम को 100% दो और आगामी दूरगामी सोच रखो। तभी सफलता हासिल हो सकती है। यह उद्गार आईएएस अधिकारी और नगर निगम ग्वालियर के कमिश्नर किशोर कान्याल ने व्यक्त किए हैं। वे अलख सामाजिक एवं जन कल्याण समिति, ग्वालियर द्वारा आयोजित ज्ञान दिवस कार्यक्रम में पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के जन्म दिवस के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम में प्रतियोगी छात्र छात्र छात्राओं को संबोधित कर रहे थे। 

नगर निगम कमिश्नर किशोर कान्याल ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति, मिसाइल मैन के नाम पर आज हम इस दिवस को ज्ञान दिवस व नॉलेज डे के रूप में मनाते हैं। उसकी सार्थकता इसी बात में है कि वे हमेशा ज्ञान को बांटने में भरोसा करते थे। ज्ञान बांटने से कम नहीं होता। बल्कि उसमें उत्तरोत्तर और बढ़ोतरी होती है। नगर निगम कमिश्नर किशोर कान्याल ने बाकायदा इसी विषय पर  प्रतियोगी  छात्र छात्राओं की कक्षा ली। और उन्हें एक जिम्मेदार और देशभक्त नागरिक बनने का पाठ भी पढ़ाया। ताकि वे एक अच्छे नागरिक बनने के साथ-साथ अपने जीवन की राह को ईमानदारी से चलने की प्रेरणा ले सकें। 

ग्वालियर के लक्ष्मी बाई कॉलोनी स्थित  ज्ञानोदय कोचिंग संस्थान के परिसर में आयोजित अलख-संस्था के इस कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में पीएससी एक्सपर्ट मनोज शर्मा ने पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के जीवन ,उनके संघर्ष, प्रयासों और देश को हुई उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी । कार्यक्रम में उपस्थित छात्र छात्राओं ने अतिथि वस्तुओं से सवाल पूछ कर अपनी जिज्ञासाओं का समाधान भी किया। कार्यक्रम के प्रारंभ में अलख -संस्था की ओर से गजेंद्र राजोरिया, विवेक मांझी व आशीष सिंह ने अतिथियों का स्वागत किया ।कार्यक्रम का संचालन अलख -संस्था के सचिव जावेद खान ने किया एवं आभार शिक्षाविद,समाजसेवी एमपी सिंह ने व्यक्त किया।