परेड में 61 प्रशिक्षु सहायक कमाण्डेंट शामिल हुए…

BSF अकादमी टेकनपुर में हुआ भव्य दीक्षांत परेड का आयोजन

ग्वालियर। सीमा सुरक्षा बल अकादमी टेकनपुर में बुधवार को सीधी भर्ती के सहायक कमाण्डेंट बैच नं. 45 के राजपत्रित अधिकारियों की भव्य दीक्षांत परेड का आयोजन हुआ। दीक्षांत समारोह का आयोजन सीमा सुरक्षा बल के महानिदेशक पंकज कुमार सिंह के मुख्य आतिथ्य में किया गया। इस अवसर पर एडीजी एवं निदेशक सीमा सुरक्षा बल अकादमी टेकनपुर लालातेंदु मोहंती सहित सीमा सुरक्षा बल के अन्य अधिकारी, प्रशिक्षुओं के परिजन एवं गणमान्य नागरिक मौजूद थे। दीक्षांत परेड में शामिल 61 प्रशिक्षु राजपत्रित अधिकारियों ने महानिदेशक सीमा सुरक्षा बल पंकज कुमार सिंह की मौजूदगी में संविधान, देश की एकता व अखण्डता एवं संप्रभुता बनाए रखने के लिये अपने आप को समर्पित करने की शपथ ली। दीक्षांत परेड में शामिल हुए सभी प्रशिक्षु अधिकारियों ने सीमा सुरक्षा बल अकादमी टेकनपुर की प्रशिक्षण टीम के कुशल मार्गदर्शन में 53 सप्ताह का गहन व कठिन प्रशिक्षण में अपने आप को भट्टी में फौलाद की तरह तपाकर देश की रक्षा के लिये तैयार किया है। 

प्रशिक्षण के दौरान सभी प्रशिक्षुओं को देश की विभिन्न सीमाओं का दौरा भी करवाया गया है। जिससे वे अपने को सीमा की रक्षा के लिये तैयार कर सकें। आरंभ में मुख्य अतिथि ने शहीद स्मारक अजेय प्रहरी पर पुष्प चक्र अर्पित किया और शहीदों को श्रद्धांजलि देकर नमन किया। इसके बाद परेड मैदान पहुँचकर दीक्षांत परेड का निरीक्षण किया। साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में अव्वल रहे प्रशिक्षु अधिकारियों को ट्रॉफियां वितरित कीं। मुख्य अतिथि पंकज कुमार सिंह ने दीक्षांत परेड की भूरि-भूरि प्रशंसा की। साथ ही मुख्य प्रशिक्षकों, प्रशिक्षण टीम और प्रशिक्षु अधिकारियों को हार्दिक बधाई दी। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण टीम ने युवा अधिकारियों को सामान्य व्यक्ति से एक योग्य लीडर के रूप में निखारकर तैयार किया है। श्री सिंह ने प्रशिक्षु अधिकारियों के माता-पिता व अभिभावकों के प्रति भी धन्यवाद व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि आप सब ने अपने बच्चों को देश की सेवा के लिये समर्पित किया है। 

महिला प्रशिक्षु अधिकारी सहायक कमाण्डेंट सुश्री रितु ने ऑल राउण्ड सर्वोत्तम प्रदर्शन किया, उन्हें कुल तीन ट्रॉफियां दी थीं। यह उपलब्धि हासिल कर सुश्री रितु ने साबित किया कि महिलायें भी पुरूषों से किसी भी क्षेत्र में कम नहीं हैं। देश की सुरक्षा के लिये भी वे तत्पर हैं। सहायक कमाण्डेंड सुश्री रितु को ऑल राउण्ड सर्वोत्तम प्रदर्शन के लिये स्वार्ड ऑफ ऑनर, बाहरी प्रशिक्षण में सर्वोत्तम पुरस्कार के रूप में गृह मंत्री ट्रॉफी और निशानेबाजी में अव्वल रहने पर निदेशक ट्रॉफी प्रदान की गई। आंतरिक प्रशिक्षण में पहले स्थान पर रहे सहायक कमाण्डेंट रंजीत सिंह को महानिदेशक ट्रॉफी और ड्रिल में अव्वल रहे सहायक कमाण्डेंट आशुतोष गौतम को निदेशक बेटन ट्रॉफी प्रदान कर सम्मानित किया गया। दीक्षांत परेड के समापन सत्र में सीमा सुरक्षा बल के जाबांजों द्वारा शानदार बैंड शो, डॉग शो व घुड़सवारी का प्रदर्शन कर सभी को रोमांचित कर दिया।