पंजाब के कृषि मंत्री ने लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए…

किसानों और पत्रकार के परिजनों को 50-50 लाख रुपए के चेक सौंपे

पंजाब के कृषि मंत्री रणदीप सिंह नाभा ने लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए चार किसानों और एक पत्रकार के परिवार के सदस्यों को 50-50 लाख रुपए के चेक सौंपे हैं. उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार ने हमेशा 'काले कृषि कानूनों' के खिलाफ किसानों के आंदोलन का समर्थन किया है और वह किसान समुदाय के साथ खड़ी है। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में तीन अक्टूबर को हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी. 

पंजाब सरकार की ओर से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, कृषि मंत्री रणदीप सिंह नाभा ने लखनऊ में चार किसानों और पत्रकार के परिवारों को 50-50 लाख रुपए के चेक सौंपे. इस दौरान कृषि मंत्री रणदीप सिंह नाभा ने कहा, ‘’पंजाब सरकार (कृषि कानूनों के खिलाफ) चल रहे आंदोलन में मारे गए 157 किसानों के प्रत्येक परिवार के एक सदस्य को पहले ही सरकारी नौकरी दे चुकी है.’’ 

गौरतलब है कि किसानों का एक समूह यूपी प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की यात्रा के खिलाफ तीन अक्टूबर को प्रदर्शन कर रहा था, तभी लखीमपुर खीरी में एक एसयूवी (कार) ने चार किसानों को कुचल दिया. इसके बाद गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने बीजेपी के 2 कार्यकर्ताओं और एक ड्राइवर की कथित तौर पर पीट-पीट र हत्या कर दी, जबकि हिंसा में एक स्थानीय पत्रकार की भी मौत हो गई.