भारतीय सैनिकों ने बनाया बंधक

 अरुणाचल में  200 चीनी सैनिकों ने की घुसने कोशिश 

 


अरुणाचल।  चीन अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं रही है। उसने भारत से सटी सीमा पर सैनिकों का भारी जमावड़ा कर लिया है। सूत्रो जानकारी  के मुताबिक, भारत और चीन के सैनिकों के बीच पिछले हफ्ते अरुणाचल सेक्टर में एक बार फिर आमना-सामना हुआ। यहां वास्तविक नियंत्रण रेखा के लेकर दोनों देशों के सैनिकों के बीच घंटों संघर्ष की स्थिति बनी। जानकारी के मुताबिक, 200 चीनी सैनिकों ने अरुणाचल प्रदेश की सीमा में घुसने की कोशिश की। जवाब में भारतीय सैनिकों ने चीनी सैनिकों को बंधक बना लिया।

 

कमांडर स्तर तक यह बात पहुंची तो बातचीत कर विवाद हल किया गया। रक्षा सूत्रों के हवाले से यह दावा किया गया है। आमतौर पर चीनी सैनिक 10-20 के टुकड़ी में सीमा पर गश्त करते हैं, लेकिन इस बार 200 सैनिकों ने एक साथ घुसपैठ की कोशिश की। दोनों पक्षों के बीच बातचीत कुछ घंटों तक चली और मौजूदा प्रोटोकॉल के अनुसार इसे सुलझा लिया गया। गनीमत रही कि

इससे पहले अक्टूबर के शुरू में ही भारतीय सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने कहा था कि चीन ने पूर्वी लद्दाख से पूर्वी कमान में सैनिकों की भारी तैनाती की है।

 

सेना प्रमुख ने इसे चिंता का विषय बताते हुए कहा था कि सेना स्थिति पर नजर रखे हुए है और भारतीय सैनिक भी किसी भी स्थिति का जवाब देने के लिए तैयार हैं। सेना प्रमुख नरवणे ने लेह में यह बात कही थी, जहां महात्मा गांधी की 152वीं जयंती मनाई जाती थी।

 

वहीं एक अन्य रिपोर्ट में दावा किया गया था कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के मुख्यालय पर पाकिस्तानी सेना के अधिकारियों को तैनात किया जा रहा है। खुफिया इनपुट के मुताबिक, पाकिस्तानी अधिकारियों को चीन के वेस्टर्न थिएटर कमांड और सदर्न थिएटर कमांड के मुख्यालय में तैनात किया गया है।