भारतीय जनता युवा मोर्चा में…

पदों की आस लगाये नेता पुत्रों को प्रदेश भाजयुमो अध्यक्ष ने दिया करारा झटका

भोपाल । भारतीय जनता युवा मोर्चा में पदों की आस लगाये नेता पुत्रों को प्रदेश भाजयुमो अध्यक्ष ने करारा झटका दिया है। एक भी नेता पुत्र को ग्वालियर चंबल संभाग क्या पूरे मध्यप्रदेश में स्थान नहीं मिल सका है। इस बात को लेकर अब प्रदेश भर के भाजयुमो कार्यकर्ताओं में कानाफूंसी भी शुरू हो गई है कि क्या भाजपा और भाजयुमो में प्रदेश आलाकमान पूर्व वरिष्ठ नेताओं को तरजीह नहीं दे रहे हैं। 

भाजयुमो में प्रदेश अध्यक्ष वैभव पंवार ने बीते दिवस प्रदेश भाजयुमो की अपनी टीम घोषित की है। इस टीम में आने की टकटकी लगाये एक भी नेता पुत्र को इसमें स्थान नहीं मिल सका है। जबकि ग्वालियर चंबल संभाग से ही पांच नेताओं के पुत्र पदाधिकारी बनने की आस में थे। कुल मिलाकर नेता पुत्रों को भाजयुमो प्रदेश पदाधिकारियों की सूची में स्थान न मिलने से यह स्पष्ट हो गया है कि भाजयुमो अध्यक्ष वैभव पंवार अपनी स्टाइल से अब भाजयुमो को चलायेंगे। भाजयुमो के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पांडे की टीम में केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर व अन्य वरिष्ठ नेताओं के कोटे से प्रदेश उपाध्यक्ष रहे विनय जैन को भी फिलहाल सूची से बाहर रखा गया है, जबकि विनय जैन इस बार प्रदेश अध्यक्ष पद के लिये ही सशक्त दावेदार माने जा रहे थे। 

अब ऐसी संभावना है कि नेता पुत्रों को दूसरी एक अन्य सूची निकाल कर प्रदेश पदाधिकारियों मेंं एडजस्ट किया जाये। हालांकि प्रदेश पदाधिकारियों की सूची में नये नवेले चेहरों को स्थान दिया गया है। जिले में अपनी पहचान रखने वाले नेता प्रदेश पदाधिकारी बनकर अब कुर्ते का कॉलर ऊंचा कर घूमने लगे हैं, कई वरिष्ठ कार्यकर्ता भी अपने आपको उपेक्षित व ठगा महसूस कर रहे हैं।