मोटा मुनाफा कमाने का लालच देकर ठगे लाखों…

सहारा ग्रुप के चेयरमैन समेत 7 पर धोखाधड़ी की FIR दर्ज

ग्वालियर। पांच साल में जमा किए गए रुपयों को मोटा मुनाफा कमाने का लालच देकर गांव के भोले-भाले लोगों को सहारा क्रेडिट को-ऑपरेटिव कंपनियों ने लाखों रुपए का चूना लगा दिया। घटना पांच साल से अभी तक के बीच भितरवार-डबरा की है। जब समय सीमा पूरी हो गई और लोगों ने अपना पैसा मांगा तो कंपनी के एजेंट और अफसर एक दो दिन कहकर टरकाने लगे। काफी समय गुजरने के बाद पीड़ित भितरवार थाने पहुंचे, लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हुई। आखिर में कंपनी के ठगे गए लोग पुलिस कप्तान अमित सांघी के पास पहुंचे। यहां ठगे गए लोगों ने पूरे मामले से अवगत कराया। पुलिस कप्तान ने तत्काल क्राइम ब्रांच में मामला दर्ज करने के निर्देश दिए। पुलिस ने क्राइम ब्रांच थाने में सहारा ग्रुप के चेयरमैन सहित 7 लोगों पर धोखाधड़ी की FIR दर्ज की है। 

भितरवार के गोलेश्वर मोहल्ला निवासी नरेन्द्र अग्रवाल, वीरेन्द्र अग्रवाल, हरीश अग्रवाल और महावीर प्रसाद अग्रवाल ने शिकायत की थी कि उन्होंने सहारा चिटफंड क्रेडिट को-ऑपरेटिव कंपनियों में करीब 5 साल पहले 15 लाख रुपए जमा कराए थे। जब कंपनी के अफसरों ने वादा किया था कि पांच साल बाद कंपनी से जब रुपया वापस मिलेगा तो उसके साथ मोटा मुनाफा मिलेगा। जब रुपए देने का समय हुआ था तो कंपनी के मैनेजर सहित अन्य कर्मचारी उन्हें टरकाने लगे। काफी समय बीतने के बाद भी जब रुपए वापस नहीं मिले तो उन्होंने इसकी शिकायत भितरवार थाना से की। 

पुलिस ने उनकी शिकायत पर मामला दर्ज नहीं किया तो मामले की शिकायत पुलिस कप्तान से की। जिसके बाद क्राइम ब्रांच ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। ठगी के शिकार लोगों की शिकायत पर क्राइम ब्रांच ने सहारा इंडिया ग्रुप के चेयरमैन सुब्रत राय, जायव्रतो राय लखनऊ सहारा इंडिया परिवार के डायरेक्टर, शिवाजी सिंह रीजनल मैनेजर ग्वालियर, केएल कर्ण सेक्टर मैनेजर ग्वालियर, ओमप्रकाश श्रीवास्तव लखनऊ सहारा प्रबंधक, सपना राय सहारा इंडिया परिवार की प्रेसिडेंट, अनिल तिवारी भोपाल जोनल मैनेजर सहारा इंडिया और देवेन्द्र सक्सेना इंदौर असिस्टेंट एरिया मैनेजर के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 

ठगी के शिकार लोगों ने बताया कि सहारा ग्रुप में उनके साथ ही करीब 79 लोगों ने अपने पैसे जमा कराए थे। इसके अलावा भी अन्य लोग है जो अपने पैसों के वापस मिलने का इंतजार कर रहे हैं। जिनका जमा राशि को 5 साल पूरे होते जा रहे हैं उनको इस धोखाधड़ी का पता चलता जा रहा है। इस पर क्राइम ब्रांच के थाना प्रभारी दामोदर गुप्ता का कहना है कि सहारा ग्रुप के चेयरमैन सहित सात के खिलाफ मामला दर्ज किया है। मामले की जांच की जा रही है। सभी दस्तावेजों को गहन अध्ययन किया जा रहा है।