सेमीफाइनल में बनाई जगह

सिंधु मेडल से सिर्फ एक कदम दूर...

टोक्यो। भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक की महिला एकल स्पर्धा के क्वार्टरफाइनल में जापान की अकाने यामागुची को 21-13, 22-20 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बना ली है. यह मुकाबला काफी कड़ा रहा और दोनों ही खिलाड़ियों ने जीत के लिए खूब जोर आजमाइश की. अब वे पदक से एक कदम दूर हैं. अगर सिंधु सेमीफाइनल में जीतीं, तो भारत के लिए एक पदक पक्का हो जाएगा. रियो ओलंपिक 2016 की सिल्वर मेडल विजेता सिंधु ने बैडमिंटन में भारत के पहले ओलंपिक स्वर्ण पदक की उम्मीद बनाए रखी. 

अब उनका सामना थाईलैंड की रतचानोक इंतानोन और चीनी ताइपे की ताई जु यिंग के बीच होने वाले दूसरे क्वार्टरफाइनल के विजेता से होगा. सिंधु इस वक्त बेहतरीन फॉर्म में चल रही हैं और उम्मीद है कि वे इस बार गोल्ड मेडल लाएंगी. मौजूदा विश्व चैम्पियन सिंधू ने दुनिया की पांचवें नंबर की खिलाड़ी यामागुची के खिलाफ 11-7 के जीत के रिकार्ड का फायदा उठाकर पहला गेम महज 23 मिनट में 21-13 से अपने नाम कर लिया. 

दूसरे गेम में यामागुची ने वापसी करने की कोशिश की लेकिन भारतीय खिलाड़ी ने उन्हें ऐसा नहीं करने दिया और 33 मिनट में जीत दर्ज कर अंतिम चार में जगह पक्की की. रियो ओलंपिक में भी सिंधु ने शानदार प्रदर्शन करते हुए सिल्वर मेडल जीता था. बॉक्सिंग में भारत का मेडल पक्का होता दिख रहा है. 69 किलोग्राम कैटेगरी के क्वार्टर फाइनल मुकाबला जीत कर लवलीना सेमीफाइनल में पहुंच गई है. इसके बाद लवलीना का कम से कम एक पदक पक्का है. यदि वह सेमीफाइनल जीत कर फाइनल में पहुंचती है तो अपने लिए रजत पदक और भारत के लिए दूसरा पदक पक्का कर लेंगी.