53 दिन बाद आया राहत देने वाला आंकड़ा…

ग्वालियर में सोमवार को मिले सिर्फ 90 नए संक्रमित

ग्वालियर। जिले में सोमवार का दिन राहत देने वाला रहा है। 53 दिन बाद ग्वालियर में एक दिन में संक्रमित का आंकड़ा 100 से नीचे आया है। सोमवार को 90 नए संक्रमित मिले हैं। इससे पहले आखिरी बार एक सैकड़ा से नीचे संक्रमित 30 मार्च को आए थे। तब 60 संक्रमित निकले थे। इसके बाद से लगातार संक्रमित का आंकड़ा एक सैकड़ा से ऊपर ही जा रहा था। यह राहत देने वाली खबर है। इसके साथ ही सोमवार को 23 संक्रमित की मौत हुई है। सरकारी आंकड़े में सिर्फ 7 मौत ही बताई जा रही हैं। सोमवार को जिले में 14424 लोगों ने वैक्सीन लगवाई है। इनमें से 18 से 44 साल की उम्र वाले 12720 हैं। प्रदेश में लगातार कोरोना संक्रमण की स्थिति में सुधार होता जा रहा है। 

हर दिन के साथ प्रदेश में संक्रमण की दर गिरती जा रही है। रिकवरी रेट पहले से बेहतर होती जा रही है। ग्वालियर में भी बीते कुछ दिन में लगातार कोविड संक्रमण की दिशा में राहत देने वाली खबरें आ रही हैं। संक्रमण दर काफी हो गई है। लोग स्वस्थ्य होकर अपने घर को लौट रहे हैं। पर अब कोविड हो चुके पेशेंट पर ब्लैक फंगस का खतरा मंडरा रहा है। लगातार लोग ब्लैक फंगस की गिरफ्त में आ रहे हैं। इससे बचाव के लिए सरकार ने तेजी से प्रयास शुरू कर दिए हैं। ब्लैक फंगस में उपयोग होने वाली दवाओं की कमी को पूरा किया जा रहा है। पोस्ट कोविड वार्ड बनाए जा रहे हैं। 

सोमवार को 3222 लोगों के सैंपल की रिपोर्ट आई है, इनमें से 90 नए संक्रमित निकले हैं। मंगलार के लिए 3250 सैंपल भेजे गए हैं। 24 मई तक जिले में कुल एक्टिव कंटेनमेंट जोन की संख्या 444 हो गई है। अभी तक कुल सैंपलिंग 5 लाख 21 हजार 674 के पार हो गई है। सोमवार को 23 संक्रमित की मौत हुई है और इनका अंतिम संस्कार जिले के लक्ष्मीगंज मुक्तिधाम में कोविड गाइड लाइन से हुआ है, जबकि प्रशासन ने सिर्फ 7 मौत की पुष्टि की है। सोमवार को 1570 संक्रमित ठीक होकर डिस्चार्ज किए गए हैं। सोमवार को जिले में स्वास्थ्य कर्मचारी हड़ताल पर रहे हैं। जिस कारण कई जगह वैक्सीनेशन समय पर शुरू नहीं हो सका। 

कहीं एक घंटा देरी तो कहीं दो घंटे की देरी से वैक्सीनेशन हो सका है। साथ ही अन्य स्वास्थ्य सेवाओं पर भी असर पड़ा है। स्वास्थ्य कर्मचारी अपनी दो सूत्रीय मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन भी करते नजर आए हैं। सोमवार को जिले में 147 सेंटर पर वैक्सीन लगाई गई है। इसमें स्वास्थ्य कर्मियों की हड़ताल के बाद भी जिले में 14424 लोगों को वैक्सीन लगी है। इसमें से 18+ उम्र वाले 12720 युवा हैं। इनको वैक्सीन का पहला डोज लगा है। शहर के साथ-साथ अब कस्बों और देहात में भी 18 से 44 साल के युवाओं के लिए टीकाकरण शुरू हो चुका है। इसलिए हर तरफ राहत है।