40 ने दम तोड़ा,1012 ठीक भी हुए…

ग्वालियर में सोमवार को मिले 1096 नए संक्रमित

ग्वालियर में एक बार फिर कोरोना संक्रमण ने रफ्तार पकड़ी है। 1096 नए संक्रमित सामने आए हैं। इनमें ग्वालियर SP का नाम भी शामिल है। इसके बाद कुल संक्रमित की संख्या 44286 पर पहुंच गई है। साथ ही सोमवार को 1012 संक्रमित अलग-अलग अस्पतालों से डिस्चार्ज होकर अपने घर के लिए भी गए हैं। सोमवार को शहर के तीन मुक्तिधाम में 47 कोविड संक्रमित के अंतिम संस्कार हुए हैं। इनमें से 7 बीते दिवस के शव हैं। सोमवार को कुल 40 मौत हुई हैं। जिसके बाद कुल मौतों का आंकड़ा 793 हो गया है। पर सरकारी आंकड़े की बात करें तो सिर्फ 8 मौत ही बताई जा रही हैं। 

सोमवार को मुक्तिधामों में शवों के अंतिम संस्कार के लिए एम्बुलेंस की वेटिंग चलती रही। कोरोना की दूसरी लहर अब प्रदेश में अपने पीक पर है। ऐसा माना जा रहा है कि अब संक्रमण दर घटेगी और रिकवरी दर बढ़ेगी। पर अभी जो स्थिति है वह डराने वाली है। प्रदेश में हर दिन हजारों की संख्या में संक्रमित मिल रहे हैं। बड़े शहरों भोपाल, इंदौर, जबलपुर, उज्जैन व ग्वालियर का हाल इस समय काफी खराब हैं। हर दिन के साथ ग्वालियर में संक्रमित की संख्या बढ़कर आ रही है। 

रविवार को जरूर 910 संक्रमित मिले थे तो राहत महसूस हुई, लेकिन इसके बाद सोमवार को 1096 संक्रमित निकल आए। लगभग 200 संक्रमित बढ़ने से फिर पैनिक फेल गया है। लगातार संक्रमित बढ़ने से ऑक्सीजन का संकट और रेमडेसिविर इंजेक्शन की किल्लत बराबर बनी हुई है। खुद मुख्यमंत्री से लेकर प्रदेश के अन्य प्रभारी मंत्री सिर्फ ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने में लगे हैं। लगातार बाहर से ऑक्सीजन लाना जारी है और शहर में भी ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं। इसके बाद भी हालात काबू में नहीं आ रहे हैं। इसी बीच ग्वालियर SP भी संक्रमित हो गए हैं। सोमवार को 3936 लोगों के सैंपल की रिपोर्ट आई है, इनमें से 1096 नए संक्रमित निकले हैं। इसके बाद कुल संक्रमित का आंकड़ा 44286 हो गया है। मंगलवार के लिए 4153 सैंपल भेजे गए हैं। 

सोमवार को एक्टिव केस 8682 से बढ़कर 8758 हो गए हैं। साथ ही 3 मई तक जिले में कुल एक्टिव कंटेनमेंट जोन की संख्या 534 से घटकर 494 हो गई है। अभी तक कुल सैंपलिंग 4 लाख 46 हजार 705 के पार हो गई है। सोमवार को 40 संक्रमित की मौत हुई है और इनके अंतिम संस्कार जिले के मुक्तिधाम में हुए हैं। प्रशासन ने सिर्फ 8 मौत की पुष्टि की है। । जिसके बाद कुल मौत का आंकड़ा 793 पर पहुंच गया है। राहत की बात यह है कि 1012 संक्रमित डिस्चार्ज होकर सोमवार को अपने घर भी गए हैं। 

सोमवार को पुलिस और जिला प्रशासन से शहर के विभिन्न इलाकों से बिना कारण सड़कों पर घूमने वाले 50 लोगों को पकड़ा था। इनको बड़ागांव एक निजी कॉलेज में बनाए गए सेंटर में रखा गया था। पर जिससे पहले इनका रैपिड एंटीजन टेस्ट कराया जाता यह पुलिस को चकमा देकर भाग गए। आजकल पुलिस अभियान चला रही है कि जो भी बिना कारण बाहर घूमता मिले तो उसका कोरोना टेस्ट करा दिया जाए। संक्रमित निकलने पर आइसोलेशन में रखा जाएगा।