दमोह में मंत्री की सरकारी कार में कैश !

मंत्री भूपेंद्रसिंह के सहायक की गाड़ी में लाखों रुपए होने का आरोप !

दमोह। दमोह विधानसभा के उपचुनाव में चुनाव प्रचार थमने के बाद पार्टियों ने जीत के लिए हर हथकंड़े अपनाने शुरू कर दिए हैं। शुक्रवार दोपहर श्याम नगर स्थित क्लब हाउस के बाहर खड़ी मप्र शासन लिखी गाड़ी में कांग्रेसियों ने रुपए होने का आरोप लगाकर हंगामा शुरू कर दिया। बाद में यह कार पुलिस की मौजूदगी में तेजी से बाहर निकाल दी गई। यह कार नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्रसिंह के दफ्तर की है और सहायक को आवंटित है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव ने कहा कि पुलिस ने अपनी कस्टडी में लेकर गाड़ी को रफूचक्कर करवा दी। चुनाव आयोग मूक दर्शक बना हुआ है, चुनाव आयोग भाजपा का पिट्ठू है। सुप्रीम कोर्ट इस मामले में संज्ञान लेना चाहिए । 

मामले की खबर मिलते ही कोरोना पॉजिटिव होने की वजह से क्वारेंटाइन किए गए कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन मौके पर पहुंचे और भीड़ के बीच मौजदू रहे। हालांकि उनके भाई डॉ. अनिल टंडन का कहना है कि दोबारा कोरोना जांच में प्रत्याशी अजय टंडन की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। अब सवाल यह है कि कोरोना की जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के दूसरे ही दिन प्रत्याशी भीड़ के बीच कैसे आ सकते हैं। नियमानुसार उन्हें होम क्वारंटाइन में ही होना चाहिए। दरअसल, शुक्रवार को कांग्रेस कार्यकर्ता शहर के होटलों में बाहरी लोगों के होने की जांच कर रहे थे। इसी बीच वे श्याम नगर पहुंचे। जहां क्लब हाउस के बाहर खड़ी कार MP 04 CZ 4692 के पास जाकर देखा तो उसमें रुपए नजर आए। 

रुपए देख कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस प्रत्याशी टंडन को मामले की खबर दी। उन्होंने प्रशासन को सूचना दी। साथ ही कार्यकर्ताओं के साथ टंडन मौके पर पहुंचे। मामले में कांग्रेसियों ने हंगामा करते हुए कार्रवाई की मांग की। लेकिन 2 घंटे बीतने के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई। इसी बीच दोपहर करीब 2.45 बजे पुलिस की मौजूदगी में कार चालक कार लेकर मौके से चला गया। विरोध करने सामने आए कांग्रेसियों को पुलिस ने बल प्रयोग कर हटाया। भोपाल में रजिस्टर्ड कार बेस्ट टूर एंड ट्रेवल्स के नाम पर है और इसके पार्टनर अमित मिश्रा नामक व्यक्ति हैं। 

इस गाड़ी का पास नगरीय प्रशासन मंत्री के सहायक राजेंद्रसिंह सेंगर के नाम से जारी है जो पहले नगर निगम सागर में पदस्थ रह चुके हैं। मौके पर पहुंचे कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन ने आरोप लगाते हुए कहा होटल के रूम नंबर 101 में करोड़ों रुपए रखे हैं। वहीं, कार में भी लाखों रुपए रखे हुए हैं। प्रशासन व पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है। कार की चॉबी नहीं है तो जब्त कर थाने ले जाएं और पंचनामा बनाकर खुलवाएं। लेकिन पुलिस हमें यहां से भगा रही है। धारा-144 का हवाला देकर हमारे कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई की जा रही है। पुलिस कार्रवाई करें तो हम चले जाएंगे। दमोह में लोकतंत्र की हत्या की जा रही है।