गैर जरूरी वस्तुओं के ई-काॅमर्स कंपनियों द्वारा बेचे जाने के विरोध में…

CAIT ने जिला कलेक्टर श्री सिंह को सौंपा ज्ञापन

ग्वालियर। काॅन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) मध्यप्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र जैन, जिला संयोजक दीपक पमनानी, अध्यक्ष रवि गुप्ता, महामंत्री मुकेश जैन, संयुक्त सचिव मयूर गर्ग,कृष्ण बिहारी गोयल, प्रितेश अग्रवाल आदि ने जिला कलेक्टर ग्वालियर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह से उनके निवास पर भेंट कर ज्ञापन दिया। इस अवसर पर एडीएम रिन्केश वैश्य भी उपस्थित थे। मिलकर एक ज्ञापन भेंट किया। उन्होंने यह मांग की कि 15 अप्रैल से 22 अप्रैल तक जिले में जो कोरोना कर्फयू अर्थात लोकडाउन लगा है इस अवधि में ई-काॅमर्स कंपनियों पर भी गैर जरूरी वस्तुऐं बेचने पर पाबंदी हो। 

ऐसा नहीं है कि ग्वालियर के सभी व्यापारी आपदा की इस घडी में जिला प्रशासन के नियमों का पालन कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर अंतर्राष्ट्रीय ई-काॅमर्स कंपनी गैर जरूरी वस्तुऐं विक्रय करने के लिये स्वतंत्र है। इससे हमारे व्यापािरयों पर विपरीत प्रभाव पडेगा। कैट पदाधिकारियों ने कलेक्टर ग्वालियर से अनुरोध किया है कि नवदुर्गा के अवसर पर आॅटो माॅवाइल्स सेटर एवं इलेक्ट्रोनिक सेक्टर में विक्री का अवसर होता है और यही सात दिन नवदुर्गा के टोटल बाजार बंद रहेगा। अतः इन शौरूमों को सुबह 6 बजे से 10 बजे तक खोलने की अनुमति दें और आॅनलाइन विक्री की इजाजत दें। 

कैट पदाधिकारियों ने कहा कि क्राइसिस मैनेजमेंट की 10 अप्रैल को हुई मीटिंग में निर्णय हुआ कि शादी विवाद रेस्टोरेंट व जिम खोलेंगे। इन्हें खोलने की इजाजत दी जाय। इसका भी आदेश इसी आदेश के साथ निकालना निर्धारित हुआ था जो नहीं निकाला गया। कैट ने मांग की है कि इस आदेश को भी तुरन्त निकाला जाये ताकि विवाह समारोह वाले इस आदेश के अनुसार अपनी प्लानिंग कर सके। कैट ने नई सब्जी मण्डी लक्ष्मीगंज को भी चालू करने की मांग की है। कलेक्टर ने अश्वस्त किया है कि कैट की मांग के अनुसार आदेश शीघ्र जारी होंगे।