ग्वालियर कोरोना अपडेट्स…

शुक्रवार को ग्वालियर में मिले 1029 नए कोरोना संक्रमित

ग्वालियर। ग्वालियर में कोरोना 25 हजारी हो गया है। शुक्रवार को एक पुलिस अफसर, जवानों, इंजीनियर, व्यवसायी सहित 1029 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। पूरे कोविड पीरियड में यह पहली बार हुआ है जब संक्रमित एक हजार से अधिक निकले हैं। यह अभी तक का नया रिकॉर्ड है। अप्रैल में कोरोना की दूसरी लहर अपने पीक पर है। हर दिन संक्रमित की संख्या बढ़ती जा रही है। शुक्रवार को संक्रमण की चपेट में आए पांच मरीजों की मौत भी हुई है। लगातार बिगड़ती स्थिति के बाद कलेक्टर ग्वालियर ने सुबह जारी की गई शाम को दूध, सब्जी की छूट को रद्द कर दिया है। इतना ही नहीं सुबह भी 10 बजे तक की छूट को घटाकर 9 बजे तक कर दिया है।

प्रदेश में लगातार कोरोना संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है। प्रदेश के महानगर भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन में हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए सभी शहरों में कोरोना कर्फ्यू लगाया है। ग्वालियर में भी बीते एक सप्ताह के रिकॉर्ड तोड़ कोरोना प्रदर्शन के चलते 7 दिन का कोरोना कर्फ्यू लगाया गया है। पर इसके बाद भी लोग सड़कों पर निकलने और भीड़ जुटाने से बाज नहीं आ रहे हैं। शुक्रवार को जिले में कोरोना ने खुद का दो दिन पहले बना रिकॉर्ड तोड़ दिया। शुक्रवार को 1029 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। जो अभी तक के सबसे ज्यादा हैं। 

इसके साथ ही कुल संक्रमित का आंकड़ा 25458 पर पहुंच गया है। शुक्रवार को जिले में 5 की मौत भी हुई है। पांच मौत के साथ कुल मौत 356 हो गई है। शुक्रवार को 4126 लोगों के सैंपल की रिपोर्ट आई है, इनमें से 1029 नए संक्रमित निकले हैं। इसके बाद कुल आंकड़ा 25458 हो गया है। शनिवार के लिए 3290 सैंपल लेकर भेजे गए हैं। शुक्रवार तक कुल एक्टिव केस बढ़कर 5130 हो गए हैं। शुक्रवार को 60 से ज्यादा स्थानों पर माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए हैं। शुक्रवार को राहत की बात यह है कि 348 संक्रमित डिस्चार्ज होकर अपने घर के लिए रवाना हुए हैं। 

शुक्रवार को कोरोना संक्रमित 30 वर्षीय नागेन्द्र यादव पुत्र रामप्रकाश यादव की मौत हुई है। इसके अलावा 70 वर्षीय रामदेवी पत्नी मानिकचन्द्र निवासी ग्वालियर, 64 वर्षीय जोरसिंह बाजवा निवासी चेतकपुरी, 27 वर्षीय राजेश कंषाना, 65 वर्षीय अनार सिंह निवासी महगांव भिंड की मौत हुई है। सभी का अंतिम संस्कार कोविड गाइडलाइन के आधार पर किया गया है। इस समय ग्वालियर में हालात बेहद खतरनाक होते जा रहे हैं। शहर की अपेक्षा देहात व गांव से भी संक्रमित का आंकड़ा बढ़ने लगा है। यह अपने आप में चिंता का विषय है। इसके साथ ही शुक्रवार को 5 मौत में से 2 युवा है जिनकी उम्र 25 से 30 साल है। यह संकेत युवाओं के लिए ठीक नहीं है।